पीओके से आए सभी परिवारों को सरकार 5.5 लाख रुपये की मदद देगी

केंद्र सरकार ने पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (पीओके) से आकर जम्मू-कश्मीर में बसने वाले विस्थापित परिवारों के लिए 5.5 लाख रुपये की एकमुश्त मदद का दायरा बढ़ा दिया है. दैनिक जागरण के मुताबिक अब इस दायरे में ऐसे 5,300 परिवारों को भी शामिल किया गया है जो पीओके से आकर पहले किसी अन्य राज्य में रहे थे और फिर जम्मू-कश्मीर में बसे. बुधवार को पीएम नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में मंत्रिमंडल की बैठक में यह फैसला किया गया. पहले केवल उन परिवारों के लिए इस मदद का एलान किया गया था जो पीओके से आकर सीधे जम्मू-कश्मीर में बसे थे. केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कैबिनेट के फैसले का ब्योरा देते हुए कहा कि सरकार ने ऐतिहासिक गलती को ठीक कर दिया है.

रामचंद्र गुहा सहित 49 हस्तियों के खिलाफ राजद्रोह का मामला बंद करने का आदेश

भीड़ की हिंसा लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखने के मामले में चर्चित इतिहासकार रामचंद्र गुहा सहित 49 हस्तियों के खिलाफ राजद्रोह का मामला बंद किया जाएगा. यह मामला बिहार के मुजफ्फरपुर में दायर किया गया था. द टाइम्स ऑफ इंडिया के मुताबिक पुलिस ने जांच में कोई ठोस साक्ष्य न मिलने के बाद इसकी अनुशंसा की है. यह मामला एक स्थानीय अधिवक्ता की याचिका पर मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी (सीजेएम) के निर्देश के बाद दर्ज किया गया था. याचिका में आरोप लगाया गया था कि इन हस्तियों की चिट्ठी से देश की छवि की खराब हुई है.

जम्मू-कश्मीर में बीडीसी चुनाव पर कांग्रेस का यूटर्न

कांग्रेस ने कहा है कि वह जम्मू-कश्मीर में खंड विकास परिषदों (बीडीसी) के चुनाव में हिस्सा नहीं लेगी. ये चुनाव 24 अक्टूबर को होने हैं. पहले पार्टी ने इनमें हिस्सा लेने की बात कही थी. द ट्रिब्यून के मुताबिक कांग्रेस की प्रदेश इकाई के मुखिया गुलाम अहमद मीर ने कहा है कि केंद्र के इशारे पर स्थानीय प्रशासन विपक्षी पार्टियों उनके लोकतांत्रिक अधिकारों से वंचित कर रहा है और ऐसे में उनके पास चुनाव का बहिष्कार करने के अलावा कोई रास्ता नहीं है. पांच अगस्त को जम्मू-कश्मीर का विशेष दर्जा खत्म होने के बाद से राज्य में यह पहला चुनाव है.

एसबीआई ने छठी बार कर्ज सस्ता किया

भारतीय स्टेट बैंक ने कर्ज पर ब्याज दरों में 0.10 फीसदी की कटौती की है. हिंदुस्तान के मुताबिक नई दर आज से लागू होगी. बैंक ने इस साल छठी बार ब्याज दरों में कटौती की है. इससे होम, कार और पर्सनल लोन सस्ता हो जाएगा. हालांकि बैंक ने बचत खाते और एफडी पर ब्याज घटाकर कइयों को झटका भी दिया है. एक लाख रु तक रकम वाले बचत खाते के लिए यह दर 3.5 की जगह 3.25 फीसदी हो गई है.