महाराष्ट्र और हरियाणा में 21 अक्टूबर को होने वाले विधानसभा चुनाव के मद्देनजर राजनीतिक पारा गर्म है. आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने महाराष्ट्र के अकोला में एक चुनावी जनसभा को संबोधित किया. इस दौरान जम्मू-कश्मीर से धारा 370 हटाने के मुद्दे पर उन्होंने विपक्षी दलों पर जमकर निशाना साधा. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, ‘आज राजनीति के स्वार्थ और अपने परिवार में डूबे हुए ये लोग यह कहने में लगे हुए हैं कि महाराष्ट्र का जम्मू-कश्मीर से क्या लेना देना! डूब मरो, डूब मरो.’

प्रधानमंत्री ने कहा कि छत्रपति शिवाजी की धरती पर आजकल राजनीतिक स्वार्थ के कारण ऐसी आवाजें उठाई जा रही हैं. उनका कहना था, ‘महाराष्ट्र के कितने ही जवान कश्मीर जाते हैं, अपनी शहादत देते हैं, ऐसे में कश्मीर से महाराष्ट्र का वास्ता पूछने वालों को अपनी सोच और बयानों पर शर्म आनी चाहिए.

महाराष्ट्र में मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस और एनसीपी लगातार कह रहे हैं कि भाजपा और मोदी सरकार 370 का जिक्र कर असल मुद्दों से जनता का ध्यान भटका रही है. मंगलवार को ही एनसीपी प्रमुख शरद पवार का बयान आया था कि भाजपा के पास हर मुद्दे और हर सवाल का जवाब बस धारा 370 है. शरद पवार ने कहा कि इस बार का चुनाव किसान आत्महत्या, कारोबारी सुस्ती, बेरोजगारी और शिक्षा की स्थिति जैसे जरूरी मुद्दों पर केंद्रित होगा.