‘अनुच्छेद 370 को हटाने के बाद मानवाधिकार विश्व स्तर पर एक ज्वलंत शब्द बन गया है.’  

— निर्मला सीतारमण, वित्त मंत्री

वित्त मंत्री ने यह बात न्यूयॉर्क में कोलंबिया विश्वविद्यालय के एक कार्यक्रम में कही. उन्होंने कहा कि अस्थायी अनुच्छेद 370 के कारण जम्मू-कश्मीर में अभी तक महिलाएं अपने संपत्ति के अधिकार से वंचित थीं और राज्य के आदिवासियों को भी वह अधिकार नहीं मिल रहे थो जो संविधान उन्हें देता है. निर्मला सीतारमण ने कहा कि ये भी मानवाधिकार ही थे लेकिन इनकी बात नहीं हो रही थी. उन्होंने दावा किया कि अब इन्हें ये सभी अधिकार मिल जाएंगे.

‘कांग्रेस को परिवारभक्ति में ही राष्ट्रभक्ति नजर आती है.’

— नरेंद्र मोदी, प्रधानमंत्री

नरेंद्र मोदी ने यह बात महाराष्ट्र के अकोला में एक चुनावी रैली में राज्य के विपक्षी दल कांग्रेस पर हमला बोलते हुए कही. प्रधानमंत्री ने कहा कि कांग्रेस अब वह पार्टी नहीं रह गई है जिसने आजादी की लड़ाई का नेतृत्व किया था. उनका यह भी कहना था कि यह पार्टी अब अपनी आखिरी सांसें गिन रही है. महाराष्ट्र में 21 अक्टूबर को विधानसभा चुनाव होने हैं.


 ‘अर्थव्यवस्था के बुनियादी कारक बहुत बहुत मजबूत हैं.’  

— केवी सुब्रमण्यम, मुख्य आर्थिक सलाहकार

केवी सुब्रमण्यम का यह बयान अर्थव्यवस्था में सुस्ती की खबरों के बीच आया है. नई दिल्ली में उद्योग मंडल फिक्की की ओर से आयोजित एक कार्यक्रम में मुख्य आर्थिक सलाहकार ने कहा कि निवेश में गिरावट के कारण अर्थव्यवस्था में सुस्ती है. उनका यह भी कहना था कि कंपनियों को यह समझना चाहिए कि अर्थव्यवस्था में सुस्ती के चलते सस्ती दर पर श्रम उपलब्ध है और इसलिये यह निवेश का सही समय है. उन्होंने उम्मीद जताई कि जल्द ही भारत 7-8 प्रतिशत की आर्थिक वृद्धि के रास्ते पर लौट आएगा.


‘अमेरिकी प्रतिबंधों की वजह से हमारे देश को कई कठिनाइयों का सामना करना पड़ा है. लेकिन हम लड़ेंगे.’

— किम जोंग उन, उत्तर कोरियाई शासक

किम जोंग उन को बुधवार को सफेद घोड़े पर सवार होकर ‘माउंट पाइकेतो’ जाते देखा गया है. कोरियाई प्रायद्वीप की इस सबसे ऊंची चोटी को उत्तर कोरियाई लोग पवित्र मानते हैं. किम महत्वपूर्ण फैसले लेने से पहले अक्सर यहां आते हैं. दक्षिण कोरिया और अमेरिका के साथ कूटनीतिक संबंध शुरू करने से पहले 2018 में भी वे यहां आए थे. ‘कोरियन सेंट्रल न्यूज एजेंसी’ ने बताया कि किम ने निकटवर्ती निर्माणाधीन स्थलों का दौरा भी किया और परमाणु हथियार कार्यक्रम की वजह से उनके देश पर लगे प्रतिबंधों की आलोचना भी की. इस महीने की शुरुआत में उत्तर कोरिया और अमेरिका के बीच हुई परमाणु वार्ता बेनतीजा रही थी.