जम्मू-कश्मीर के कठुआ जिले में फल विक्रेताओं द्वारा खरीदे गए कश्मीरी सेब के डिब्बों पर ‘हमें चाहिए आजादी’, ‘मुझे बुरहान वानी पसंद है’ और ‘जाकिर मूसा वापस आओ’ जैसे नारे लिखे मिले हैं. फल विक्रेताओंं ने इस मामले की शिकायत पुलिस से की है, जिसके बाद मामले की जांच शुरु कर दी गई है.

फल विक्रेताओं ने बताया कि कठुआ के थोक बाजार से खरीदे गए कश्मीरी सेब के डिब्बे खोले गए तो सेबों पर काली स्याही से संदेश लिखे मिले. कठुआ थोक बाजार के अध्यक्ष रोहित गुप्ता ने बताया कि ये डिब्बे कश्मीर से आए थे और इन पर ‘हमें आजादी चाहिए’ और ‘मुझे बुरहान वानी पसंद है’ जैसे संदेश अंग्रेजी और उर्दू में लिखे थे. सेबों पर ‘भारत वापस जाओ’, ‘मेरी जान, इमरान खान’ और ‘पाकिस्तान-पाकिस्तान’ जैसे संदेश भी लिखे हैं. फल विक्रेताओं ने कहा कि अगर सरकार कार्रवाई करने में विफल रहती है तो वह कश्मीरी सेब की खरीद का बहिष्कार करेंगे क्योंकि इन संदेशों की वजह से लोग इन्हें खरीदने से इन्कार कर रहे हैं.

कठुआ थोक बाजार के फल विक्रेताओं ने इसके खिलाफ प्रदर्शन भी किया और पाकिस्तान तथा आतंकवाद विरोधी नारे लगाए. व्यापारियों ने मांग की कि सरकार और पुलिस उन लोगों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करे जिनका हाथ इसके पीछे है. पुलिस उपाधीक्षक माजिद ने बताया कि इस मामले की जांच शुरु कर दी गई है.