सऊदी अरब में हुए एक भीषण बस हादसे में 35 विदेशी नागरिकों की मौत हो गई है. यह हादसा पवित्र मदीना शहर में हुआ जहां एक बस और लोडर की टक्कर हो गई. हादसे में चार अन्य घायल हो गए. मदीना के पुलिस प्रवक्ता ने बताया कि
हादसे के शिकार लोग अरब और एशियाई तीर्थयात्री थे.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सऊदी अरब में हुई इस बस दुर्घटना पर शोक जताया है. उन्होंने ट्वीट किया, ‘सऊदी अरब में मक्का के पास बस दुर्घटना की खबर से दुखी हूं. हादसे में मारे गये लोगों के परिजनों के प्रति मेरी संवेदनाएं. घायलों की जल्द सलामती की दुआ करता हूं.’ घायलों को स्थानीय अल हमना अस्पताल में भर्ती करवाया गया है. अधिकारियों ने मामले की जांच शुरू कर दी है.

अप्रैल 2018 में सऊदी अरब में हुए एक सड़क हादसे में भी एक बस, टैंकर से टकरा गई थी. इस हादसे में चार ब्रिटिश तीर्थयात्रियों की मौत हो गई थी जबकि 12 अन्य घायल हो गए थे. इससे पहले जनवरी 2017 में मदीना के पास ही हुई एक सड़क दुर्घटना में छह ब्रिटिश नागरिकों की मौत हो गई थी.

तेल पर आर्थिक निर्भरता को कम करने के प्रयास में सऊदी अरब अब पर्यटन की तरफ बढ़ रहा है. पिछले महीने तक वह सिर्फ मुस्लिम तीर्थयात्रियों, विदेशी कर्मचारियों या फिर खेल आयोजनों के लिए वहां आने वाले दर्शकों को वीजा देता था. लेकिन अब उसने पर्यटकों को भी वीजा देना शुरू कर दिया है.