‘हरियाणा विधानसभा चुनाव में अनुच्छेद 370 मुद्दा नहीं है.’ 

— भूपेंद्र सिंह हुड्डा, कांग्रेस नेता और हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री

भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने यह बात एक साक्षात्कार में कही. उन्होंने कहा कि अनुच्छेद 370 इसलिए मुद्दा नहीं है क्योंकि इसका कोई विरोध नहीं हो रहा है. पूर्व मुख्यमंत्री ने यह भी दावा किया कि हरियाणा में कांग्रेस और भाजपा के बीच सीधी टक्कर है जिसमें उनकी पार्टी को जीत मिलेगी. राज्य में 21 अक्टूबर को विधानसभा चुनाव होने हैं.

‘बीएसएनएल का अस्तित्व देश के रणनीतिक हित में है.’   

— रविशंकर प्रसाद, केंद्रीय मंत्री

केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद का यह बयान बीएसएनएल के ऊपर मंडरा रहे आर्थिक संकट को लेकर आया है. उन्होंने कहा कि सरकार कंपनी की मुश्किलों को दूर करने का प्रयास कर रही है. उन्होंने कहा कि बीएसएनएल के राजस्व का 75 प्रतिशत हिस्सा कर्मचारियों के वेतन पर खर्च हो जाता है जबकि अन्य कंपनियों को इसके लिये पांच-दस प्रतिशत ही खर्च करना पड़ता है. बीएसएनएल अपने कर्मचारियों को सितंबर महीने का वेतन नहीं दे पायी है. ऐसी खबरें हैं कि वित्त मंत्रालय बीएसएनएल और एमटीएनएल को बंद करना चाहता है.


‘कांग्रेस को भाजपा या संघ से देशभक्ति के प्रमाणपत्र की जरूरत नहीं.’  

— मनमोहन सिंह, पूर्व प्रधानमंत्री

मनमोहन सिंह ने यह बात दिल्ली में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कही. उनका यह भी कहना था कि केंद्र में सत्ताधारी भाजपा सरकार सिर्फ विपक्ष पर दोष मढ़ने में जुटी है. इससे पहले वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण का बयान आया था कि मनमोहन सिंह के प्रधानमंत्री रहते हुए सरकारी बैंकों ने अपना सबसे बुरा दौर देखा.


‘जो देश जम्मू-कश्मीर में अनगिनत सीमापार आतंकवादी हमले करने के लिए जिम्मेदार है वह कश्मीरियों का मसीहा होने का ढोंग कर रहा है.’  

— शशि थरूर, कांग्रेस नेता और सांसद

पूर्व केंद्रीय मंत्री शशि थरूर ने यह बात सर्बिया में अंतर संसदीय संघ (आईपीयू) की बैठक में कश्मीर मुद्दा उठाने को लेकर पाकिस्तान को आईना दिखाते हुए कही. वे लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला की अध्यक्षता वाले भारतीय प्रतिनिधिमंडल में शामिल हैं. शशि थरूर ने कहा कि भारत की संसद पाकिस्तान के इस तरह के दुर्भावनापूर्ण प्रयासों को सफल नहीं होने देगी.