आईएनएक्स मीडिया मामले में सीबीआई द्वारा दर्ज केस में पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम को जमानत मिल गई है. सुप्रीम कोर्ट ने उन्हें जमानत देते हुए सीबीआई की इस दलील को खारिज कर दिया कि पी चिदंबरम देश छोड़कर भाग सकते हैं. हालांकि पूर्व वित्त मंत्री को रिहाई के लिए अभी इंतजार करना होगा क्योंकि 24 अक्टूबर तक वे ईडी की हिरासत में हैं. यह खबर आज कई अखबारों के पहले पन्ने पर है. इसके अलावा भारत के खिलाफ टेस्ट सीरीज में दक्षिण अफ्रीका का 3-0 से सूपड़ा साफ होने की खबर को भी कई अखबारों ने प्रमुखता से जगह दी है.

कमलेश तिवारी हत्याकांड में दो और संदिग्ध गिरफ्तार

कमलेश तिवारी हत्याकांड में दो और संदिग्धों की गिरफ्तारी हुई है. द इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक यह गिरफ्तारी गुजरात से हुई. संदिग्धों के नाम हैं अशफाक हुसैन और मोइनुद्दीन खुर्शीद पठान. गुजरात एटीएस ने कल शाम इन्हें गुजरात-राजस्थान की सीमा से गिरफ़्तार किया. गुजरात एटीएस के डीआईजी हिमांशु शुक्ला के मुताबिक दोनों आरोपितों ने अपना अपराध कुबूल कर लिया है. उनके मुताबिक दोनों को उत्तर प्रदेश पुलिस को सौंप दिया जाएगा. हिंदू महासभा के पूर्व नेता कमलेश तिवारी की बीते हफ्ते लखनऊ में हत्या कर दी गई थी. इन दो संदिग्धों के अलावा गुजरात से तीन और लोगों को भी इस मामले में गिरफ़्तार किया गया है.

कठुआ मामला : एसआइटी पर एफआइआर दर्ज करने का निर्देश

बहुचर्चित कठुआ बलात्कार मामले में एक नया मोड़ आ गया है. दैनिक जागरण के मुताबिक जम्मू की एक अदालत ने मामले की जांच करने वाली राज्य क्राइम ब्रांच की छह सदस्यीय स्पेशल इनवेस्टिगेशन टीम (एसआइटी) के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने का निर्देश दिया है. उन पर फर्जी गवाह तैयार करने, उन्हें गैरकानूनी ढंग से हिरासत में रखने और मानसिक व शारीरिक तौर पर प्रताड़ित करने का आरोप है. कठुआ में आठ साल की बच्ची से दुष्कर्म के बाद उसकी हत्या हुई थी. इस मामले में आठ आरोपित थे. अदालत ने इनमें से छह को दोषी करार दिया था. एक नाबालिग के खिलाफ जुवेनाइल जस्टिस बोर्ड में मामला चल रहा है, जबकि एक आरोपित को बरी किया जा चुका है.

नवजोत कौर सिद्धू ने कांग्रेस छोड़ी

पंजाब में पूर्व कैबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू की पत्नी नवजोत कौर सिद्धू ने कांग्रेस से नाता तोड़ दिया है.टाइम्स ऑफ़ इंडिया के मुताबिक अनुसार नवजोत कौर ने कहा कि अब वे किसी भी राजनीतिक पार्टी के साथ नहीं हैं. उन्हंने खुद को सिर्फ समाजसेवी बताते हुए कहा है कि उनका लक्ष्य अपने क्षेत्र का विकास करना है. नवजोत कौर सिद्धू ने कांग्रेस को कटघरे में खड़ा किया. उन्होंने कहा कि पार्टी के लोगों की वजह से ही पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह और नवजोत सिंह सिद्धू के बीच टकराव हुआ. कुछ समय पहले नवजोत सिंह सिद्धू ने पंजाब में राज्य मंत्री के पद से इस्तीफ़ा दे दिया था, हालांकि वे कांग्रेस में बने हुए हैं.