मनी लॉन्डरिंग मामले में गिरफ्तार कांग्रेस नेता डीके शिवकुमार को जमानत मिल गई है. पीटीआई के मुताबिक दिल्ली हाई कोर्ट ने कर्नाटक कांग्रेस के इस वरिष्ठ नेता को इसके लिए 25 लाख रुपये के दो मुचलके भरने को कहा है. शर्त यह भी है कि डीके शिवकुमार बिना अनुमति देश के बाहर नहीं जाएंगे. इसके साथ ही दिल्ली हाई कोर्ट ने डीके शिवकुमार को जांच में सहयोग करने का आदेश भी दिया है. कांग्रेस नेता को बीते महीने प्रवर्तन निदेशालय यानी ईडी ने गिरफ्तार किया था.

इससे पहले कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने आज दिल्ली की तिहाड़ जेल पहुंचकर डीके शिवकुमार से मुलाकात की थी. इस मुलाकात में सोनिया गांधी ने उनके प्रति एकजुटता जाहिर की. उनके साथ पार्टी नेता अंबिका सोनी भी थीं. सोनिया गांधी का यह भी कहना था कि डीके शिवकुमार के खिलाफ राजनीतिक बदले की भावना से कार्रवाई की जा रही है.

इससे पहले सुप्रीम कोर्ट ने आईएनएक्स मामले में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी चिदंबरम को भी जमानत दे दी थी. हालांकि वे अभी रिहा नहीं हो सकेंगे क्योंकि 24 अक्टूबर तक वे ईडी की हिरासत में हैं. जांच एजेंसी ने उन पर मनी लॉन्डरिंग का मामला दर्ज किया है. उधर, पी चिदंबरम अपने खिलाफ तमाम आरोपों को राजनीतिक साजिश बताते रहे हैं.