महाराष्ट्र में हुए विधानसभा चुनावों में भाजपा-शिव सेना गठबंधन की वापसी हुई है. राज्य की 288 में से 157 सीटें ऐसी हैं जिन पर गठबंधन अब तक या तो जीत चुका है या बढ़त बनाए हुए है. उधर, विपक्षी कांग्रेस-एनसीपी के गठबंधन के लिए ये आंकड़ा 105 है. अब तक गठबंधन में जूनियर पार्टनर की भूमिका में रही एनसीपी ने सीटों की संख्या के मामले में कांग्रेस को पछाड़ दिया है.

उधर, हरियाणा में त्रिशंकु विधानसभा की स्थिति बनती दिख रही है. अब तक आए नतीजों और रुझानों में भाजपा या कांग्रेस में से किसी को भी बहुमत मिलता नहीं दिख रहा. राज्य की 90 में से 40 सीटें भाजपा के खाते में जाती दिख रही हैं. उधर, कांग्रेस के लिए ये आंकड़ा 30 है. दुष्यंत चौटाला की जेजेपी को 10 सीटें मिलती दिख रही हैं. ऐसे में दुष्यंत चौटाला सरकार बनाने में अहम भूमिका निभा सकते हैं. बताया जा रहा है कि कांग्रेस ने उनसे बातचीत शुरू भी कर दी है. गठबंधन की स्थिति में उन्हें उप-मुख्यमंत्री पद देने का प्रस्ताव दिया गया है.

उधर, भाजपा नेतृत्व ने कहा है कि राज्य में उसका प्रदर्शन उम्मीद के मुताबिक नहीं रहा और इसकी समीक्षा की जाएगी. भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर को दिल्ली बुलाया है. आज ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इन चुनाव नतीजों पर दिल्ली स्थित पार्टी मुख्यालय में कार्यकर्ताओं को संबोधित करेंगे.