‘उनसे बिहार की सामाजिक समरसता को खतरा है.’  

— गिरिराज सिंह, भाजपा नेता

केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने यह बात असदुद्दीन ओवैसी के बारे में कही है. ओवैसी की पार्टी एआईएमआईएम ने किशनगंज विधानसभा सीट पर हुआ उपचुनाव जीत लिया है. गिरिराज सिंह ने कहा कि एआईएमआईएम जिन्ना की सोच वाली पार्टी है. बिहार में पांच विधानसभा सीटों पर उपचुनाव हुए थे. इनमें जनता दल यूनाइटेड (जदयू) ने अपनी चार में से तीन सीटें गंवा दी हैं. एक ओवैसी के पार्टी के हाथों और दो लालू प्रसाद यादव की राजद के हाथों.

‘मैं और मेरा परिवार शुरू से आरएसएस से जुड़े हैं.’  

— गोपाल कांडा, हरियाणा लोकहित पार्टी के अध्यक्ष

हरियाणा चुनाव में जीतकर आए अपनी पार्टी के एकमात्र विधायक गोपाल कांडा ने यह बात अपने और पांच निर्दलीय विधायकों के भाजपा को समर्थन देने का ऐलान करते हुए कही. 40 सीटें पाने वाली भाजपा बहुमत के आंकड़े से छह दूर रह गई थीा. इसके बाद भाजपा का हरियाणा में फिर सरकार बनाना तय दिख रहा है. उधर, बलात्कार के आरोपित रहे गोपाल कांडा से भाजपा के समर्थन लेने पर विवाद हो रहा है.


‘सबसे अधिक जरूरी राजनीतिक और आर्थिक स्थिति सामान्य करने के लिए खाका तैयार करना है.’  

— एलिस जी वेल्स, अमेरिकी विदेश विभाग में दक्षिण और मध्य एशिया मामलों की कार्यवाहक सहायक मंत्री

एलिस जी वेल्स ने यह बात जम्मू-कश्मीर को लेकर कही. उनका कहना था कि अमेरिका कश्मीर घाटी की स्थिति को लेकर बेहद चिंतित है जहां करीब 80 लाख लोग तमाम प्रतिबंधों के कारण प्रभावित है. एलिस जी वेल्स ने पाकिस्तान को भी अपने यहां आतंकवादियों के खिलाफ निरंतर और ठोस कदम उठाने को कहा है.


‘भारतीय दर्शकों को पर्दे पर आंसू देखना पसंद है.’  

— शर्मिला टैगोर, फिल्म अभिनेत्री

शर्मिला टैगोर ने यह बात दिल्ली में एक कार्यक्रम के दौरान कही. इस वरिष्ठ अभिनेत्री का कहना था कि लोग वास्तविक जीवन में भले ही किसी को रोते न देखना चाहें लेकिन पर्दे पर उन्हें किरदारों को आंसू बहाते देखना अच्छा लगता है. शर्मिला टैगोर ने कहा कि बॉलीवुड की फिल्मों का भावनात्मक पहलू भारतीय दर्शकों को सीधे तौर पर प्रभावित करता है.