जननायक जनता पार्टी (जेजेपी) के नेता दुष्यंत चौटाला ने कहा है कि उनके लिए न तो भाजपा अछूत है और न ही कांग्रेस. पीटीआई के मुताबिक उनका यह भी कहना है कि वे अपने संगठन के साझा न्यूनतम कार्यक्रम से सहमत होने वाली किसी भी पार्टी का समर्थन करेंगे. दुष्यंत चौटाला की जेजेपी ने हरियाणा विधानसभा चुनाव में 10 सीटें जीती हैं.

हरियाणा विधानसभा चुनाव में इस बार किसी भी दल को बहुमत नहीं मिला है. भाजपा 40 सीटों के साथ बहुमत से छह सीट दूर रह गई है. उधर, दूसरे नंबर पर रही कांग्रेस ने 31 सीटें जीती हैं..

दुष्यंत चौटाला ने आज 10 विधायकों वाले जजपा विधायक दल की एक बैठक की. हालांकि उन्होंने इस बारे में अपने पत्ते नहीं खोले कि उनकी पार्टी भाजपा का समर्थन करेगी या कांग्रेस का. दुष्यंत चौटाला ने कहा कि उन्होंने अभी तक इस मामले में न तो भाजपा और न ही कांग्रेस से कोई बात की है.

भाजपा ने 90 सदस्यीय हरियाणा विधानसभा में विधायकों का बहुमत होने का दावा किया है. कई निर्दलीय विधायकों ने पार्टी को समर्थन देने का ऐलान कर दिया है. राज्य के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने कहा है कि अगली सरकार भी उनकी ही पार्टी की बनेगी.