बुर्कीना फासो में हुए एक आतंकी हमले में 37 लोगों की मौत हो गई. पीटीआई के मुताबिक यह हमला एक कनाडाई खनन कंपनी के कर्मचारियों के काफिले पर घात लगाकर किया गया. इस पश्चिम अफ्रीकी देश में यह पिछले करीब पांच साल में हुआ सबसे घातक आतंकी हमला है.

बुर्कीना फासो के पूर्वी क्षेत्र के गवर्नर सैदोउ सानोउ ने बताया कि अज्ञात सशस्त्र लोगों ने उन पांच बसों पर घात लगाकर हमला किया जिनमें सेमाफो खनन कंपनी के स्थानीय कर्मी, ठेकेदार और आपूर्तिकर्ता सवार थे. उन्होंने बताया कि इस हमले में 60 अन्य लोग घायल भी हुए हैं. सुरक्षा सूत्रों के मुताबिक वाहनों के काफिले के पीछे चल रहा सेना का एक वाहन भी विस्फोटक की चपेट में आ गया. यह पिछले 15 महीनों में सेमाफो पर तीसरा घातक हमला है. इस कंपनी की देश में दो खदानें हैं.

बुर्कीना फासो पिछले काफी समय से अस्थिरता से जूझ रहा है. यहां के उत्तरी क्षेत्र में इस तरह के हमले होते रहते हैं. पांच नवंबर को ही खबर आई थी कि माली से लगती सीमा पर स्थित एक सुरक्षा चौकी पर हुए हमले में कम से कम पांच जवान और पांच आम नागरिक मारे गए. इससे पहले रविवार को ऐसे ही एक हमले में उत्तरी बुर्कीना फासो शहर के उप-महापौर समेत चार लोग मारे गए थे.