इंदौर के होल्कर स्टेडियम में खेले जा रहे टेस्ट मैच में भारत मजबूत स्थिति में आता दिख रहा है. बांग्लादेश को पहले ही दिन पहली पारी में 150 रन पर समेटने के बाद उसने खबर लिखे जाने तक तीन विकेट खोकर 188 रन बना लिए हैं. ओपनर मयंक अग्रवाल 91 रन बनाकर शतक के करीब हैं. उनके साथ अजिंक्य रहाणे 35 रन बनाकर क्रीज पर डटे हुए हैं.

इससे पहले चेतेश्वर पुजारा 54 रन बनाकर आउट हो गए. उनके बाद आए कप्तान विराट कोहली ने दर्शकों को निराश किया. वे अपनी पारी की दूसरी ही गेंद पर बगैर खाता खोले आउट हो गए. अबू जायेद की तेजी से अंदर आती गेंद विराट कोहली के पैड पर टकराई. इसके बाद बांग्लादेशी टीम की जोरदार अपील को अंपायर ने सिरे से नकार दिया. कप्तान मोमिनुल ने तुरंत डीआरएस लेने का फैसला किया. थर्ड अंपायर ने मैदानी अंपायर का फैसला बदलते हुए भारतीय कप्तान के खिलाफ फैसला सुनाया.

होल्कर स्टेडियम में पहला टेस्ट मैच अक्तूबर 2016 में खेला गया था. तीन साल पहले हुए इस मैच में विराट कोहली ने न्यूजीलैंड के खिलाफ शानदार दोहरा शतक (211) लगाया था. यही वजह है कि दर्शकों को उनसे खासी उम्मीदें थीं. लेकिन उन्हें निराश होना पड़ा.