मध्य प्रदेश के कांग्रेस विधायक बैजनाथ कुशवाह ने यह कहकर विवाद खड़ा कर दिया कि पृथ्वीराज सिंह चौहान सहित कई राजाओं ने इसलिये अपना राज खोया क्योंकि वे शराब पीते थे. विवाद बढ़ने पर कांग्रेस विधायक ने शुक्रवार को अपने बयान के लिये खेद व्यक्त किया.

मुरैना में बाल दिवस के अवसर पर गुरुवार को एक निजी विद्यालय में आयोजित सभा को संबोधित करते हुए सबलगढ़ (मुरैना जिला) के विधायक बैजनाथ कुशवाह ने कहा, ‘दिल्ली के राजा पृथ्वीराज चौहान, महोबा के राजा परिमल और कन्नौज के राजा जयचंद महान राजा रहे हैं. लेकिन, इसके कारण (अपने हाथ से पीने का संकेत करते हुए) उनके किलों और महलों में अब चमगादड़ उड़ रहे हैं और उनका नाम लेने वाला कोई नहीं बचा है. इसलिये मैं आपको कहना चाहता हूं कि तुम्हारी जो सबसे बड़ी संपत्ति है, यदि उसे सुरक्षित रखना चाहते हो तो कभी दारु मत पीना. अगर आप पियोगे तो आपका बेटा भी पिएगा.’

विधायक का यह बयान सोशल मीडिया में वायरल हो गया. इसके बाद विवाद खड़ा होने पर कुशवाह ने लिखित बयान जारी कर खेद व्यक्त किया. इसमें उन्होंने कहा, ‘बाल दिवस के अवसर पर आज अपने भाषण में छात्रों को प्रेरित करने के लिए सभी महापुरुषों और राजाओं के बारे में बताया. लेकिन किसी भी व्यक्ति, जाति, धर्म या संप्रदाय का अपमान करने का मेरा इरादा नहीं था. अगर मेरे बयान से किसी की भावनाओं को ठेस पहुंची तो मैं ऐसे सभी लोगों से माफी मांगता हूं.’

इस बयान पर मध्य प्रदेश भाजपा ने कहा कि यह बयान देश की महान हस्तियों के प्रति कांग्रेस नेताओं की मानसिकता को दर्शाता है. प्रदेश कांग्रेस ने कहा कि अपने बयान पर विधायक द्वारा खेद प्रकट करने के बाद मामला समाप्त हो गया है.