कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कपिल सिब्बल ने प्रदूषण के मुद्दे को लेकर सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि केंद्र को प्रदूषण पर वैसे ही खासतौर से ध्यान देना चाहिए जैसे कि उसने अनुच्छेद-370 के मामले में दिया था.

कपिल सिब्बल ने ट्वीट किया, ‘प्रकृति हमारे अपने कुकृत्यों की सजा दे रही है. हमने खुद ही सांस लेने के मौलिक आधार को खतरे में डाल दिया है. अजीबोगरीब नुस्खों को छोड़िये. सहज समाधान को अपनाए.’ उन्होंने दिल्ली सरकार की सम-विषम यातायात योजना पर भी कड़ा प्रहार किया. राष्ट्रीय राजधानी में शनिवार सुबह प्रदूषण के स्तर में गिरावट आई लेकिन इसके बावजूद शहर की वायु गुणवत्ता ‘गंभीर’ श्रेणी में बनी हुई है.

केंद्रीय मंत्री ने पांच अगस्त को जम्मू-कश्मीर को विशेष दर्जा देने वाले अनुच्छेद-370 के अधिकतर प्रावधानों को खत्म करने के केंद्र के फैसले का संदर्भ देते हुए कहा, ‘क्या अनुच्छेद-370 के पीछे राजनीति हमारे साफ हवा में सांस लेने के अधिकार से अधिक महत्वपूर्ण है? हमारी सरकार को वायु प्रदूषण पर भी उतना ही ध्यान देना चाहिए जितना उसने अनुच्छेद-370 के मामले में दिया था.’