सबरीमला : महिलाओं के प्रवेश पर केरल सरकार का यू-टर्न

केरल स्थित सबरीमला के अयप्पा मंदिर के मामले में राज्य की एलडीएफ सरकार ने यू टर्न ले लिया है. उसका कहना है कि अगर किसी महिला को पुलिस सुरक्षा चाहिए तो उसे कोर्ट का ऑर्डर दिखाना होगा. यानी जिस तरह महिलाओं को पिछले साल सुरक्षा मुहैया कराई गई थी वैसा इस साल नहीं होगा. बताया जा रहा है कि केरल सरकार ने यह फैसला पोलित ब्यूरो की सलाह पर लिया है. आज सबरीमला मंदिर के कपाट खुलेंगे. (विस्तार से)

महाराष्ट्र में सरकार बनाने पर भाजपा का भरोसा विधायकों की खरीद-फरोख्त का इशारा है : शिवसेना

शिवसेना ने आरोप लगाया है कि महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन की आड़ में भाजपा की विधायकों की खरीद-फरोख्त की मंशाल है. अपने मुखपत्र ‘सामना’ में पार्टी ने पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस के उस बयान को लेकर भी निशाना साधा, जिसमें उन्होंने कहा था कि शिवसेना-एनसीपी-कांग्रेस गठबंधन छह महीने से अधिक नहीं चलेगा. शिवसेना ने कहा कि नए राजनीतिक समीकरण ‘कई लोगों को पेट दर्द दे’ रहे हैं. (विस्तार से)

रजत शर्मा का डीडीसीए के अध्यक्ष पद से इस्तीफा, कहा - संस्था में ईमानदारी से चलना संभव नहीं

वरिष्ठ पत्रकार रजत शर्मा ने शनिवार को दिल्ली एवं जिला क्रिकेट संघ (डीडीसीए) अध्यक्ष पद से त्यागपत्र दे दिया. पीटीआई के मुताबिक उन्होंने संस्था में चल रही ‘खींचतान और दबावों’ के चलते पद पर बने रहने में असमर्थता जताई. रजत शर्मा ने अपने बयान में कहा, ‘यहां क्रिकेट प्रशासन हर समय खींचतान और दबावों से भरा होता है. मुझे लगता है कि यहां निहित स्वार्थ हमेशा क्रिकेट के हितों के खिलाफ सक्रिय रहे हैं.’ उनका आगे कहना था, ‘ऐसा लगता है कि डीडीसीए में निष्ठा, ईमानदारी और पारदर्शिता के सिद्धांतों के साथ चलना संभव नहीं है जिनसे कि मैं किसी भी कीमत पर समझौता नहीं करूंगा.’ (विस्तार से)

बोलीविया में राजनीतिक संकट गहराया, संघर्ष में पांच लोगों की मौत

बोलीविया में मौजूदा राजनीतिक संकट और गहरा गया है. पीटीआई ने खबर दी है कि सुरक्षा बलों ने देश के पूर्व राष्ट्रपति इवो मोरालेस के समर्थकों पर गोलीबारी की है. इसमें कम से कम पांच लोगों की मौत हो गई और दर्जनों लोग घायल हो गए. इस घटना ने इवो मोरालेस के इस्तीफे के बाद स्थिरता बहाल करने के अंतरिम सरकार के प्रयासों को मुश्किल में डाल दिया है. (विस्तार से)

असल मुद्दों से ध्यान भटका रहे, इसलिए मंत्रियों से ऊटपटांग बयान दिलवाए जाते हैं : कांग्रेस

कांग्रेस ने आरोप लगाया है कि नरेंद्र मोदी सरकार के मंत्रियों से योजनाबद्ध तरीके से बयान दिलवाए जा रहे हैं ताकि असल मुद्दों से ध्यान भटकाया जा सके. पार्टी के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने एक ट्वीट कर कहा, ‘कहीं की ईंट, कहीं का रोड़ा भानुमती ने कुनबा जोड़ा! ये कहावत मोदी सरकार, उनके मंत्रियों और उनके विश्लेषणों पर एकदम सटीक बैठती है।” उन्होंने आगे कहा, ‘लगता है ये उल्टे-सीधे बयान केवल हकीकत और हालात से ध्यान भटकाने के लिए एक योजनागत तरीके से दिए जाते हैं या दिलवाए जाते हैं. (विस्तार से)