क्यों पाकिस्तान फरवरी 2020 के बाद भी एफएटीएफ की ग्रे सूची में बना रह सकता है | रविवार, 10 नवंबर 2019

मनी लांड्रिंग और आतंकवाद के वित्तपोषण के मामले में खराब छवि के चलते पाकिस्तान फरवरी 2020 के बाद भी फाइनेंशियल एक्शन टास्क फोर्स (एफएटीएफ) की ‘ग्रे सूची’ में बना रह सकता है. पाकिस्तानी मीडिया की रिपोर्टों में यह आशंका व्यक्त की गयी. स्थानीय अखबार डॉन ने आर्थिक मामलों के विभाग के प्रभारी मंत्री हम्माद अजहर के हवाले से कहा, ‘एफएटीएफ की सूची से निकलने की बात करें तो पाकिस्तान की खराब छवि के चलते इसके सामने कई अन्य देशों की तुलना में अधिक चुनौतियां हैं.’

अजहर ने पाकिस्तानी संसद की वित्त एवं राजस्व मामलों से जुड़ी एक समिति की बैठक में यह बात कही. उन्होंने बैठक में यह भी कहा कि कई देशों को महज 80 प्रतिशत निर्देशों का अनुपालन करने पर ही ‘ग्रे’ सूची से बाहर निकाल दिया गया, लेकिन पाकिस्तान पर 100 प्रतिशत निर्देशों का अनुपालन करने का दबाव डाला जा रहा है.

अफगानिस्तान पर चीन का बड़ा फैसला, कहा- वहां की सरकार और तालिबान के बीच जल्द बैठक करवाएगा | सोमवार, 11 नवंबर 2019

चीन ने अफगान शांति प्रक्रिया में बड़ी भूमिका निभाने का फैसला किया. चीन ने सोमवार को कहा कि वह अफगानिस्तान को युद्ध से निकालने के लिए अपने यहां अफगान अधिकारियों एवं तालिबान के बीच बैठक करवाएगा. अब तक तालिबान ने अफगानिस्तान सरकार से सीधी बातचीत करने से इनकार किया है. वह अभी तक अमेरिका के साथ वार्ता कर रहा था, लेकिन सितंबर में यह वार्ता भी टूट गयी.

पीटीआई के मुताबिक सोमवार को चीन के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता गेंग शुआंग ने मीडिया से बातचीत में कहा, ‘हम अफगानिस्तान सरकार और तालिबान समेत सभी पक्षों के बीच सकारात्मक वार्ता का समर्थन करते हैं. सभी पक्षों की इच्छा का सम्मान करते हुए हम सभी पक्षों को वार्ता के लिए मंच उपलब्ध कराना और शांति एवं सुलह प्रक्रिया में मदद पहुंचाना चाहते हैं. चीन अपने यहां यह बैठक करवाने के लिए सभी संबंधित पक्षों के साथ संपर्क में बना हुआ है.’

बोलीविया के राष्ट्रपति पद से इस्तीफा देने वाले इवो मोरालेस को मैक्सिको ने शरण दी | मंगलवार, 12 नवंबर 2019

मैक्सिको ने बोलीविया के पूर्व राष्ट्रपति इवो मोरालेस को शरण देने का ऐलान किया. इवो मोरालेस ने चुनाव नतीजों में गड़बड़ी के आरोपों के बाद सेना और जनता के बढ़ते दबाव के बीच रविवार को इस्तीफा दे दिया था. पीटीआई के मुताबिक मैक्सिको के विदेश मंत्री मार्सेलो एबरार्ड ने कहा, ‘मुझे पूर्व राष्ट्रपति इवो मोरालेस का फोन आया था. जिसमें उन्होंने हमारे प्रस्ताव का जवाब दिया और मौखिक व औपचारिक रूप से देश में राजनीतिक शरण देने का अनुरोध किया.’ उन्होंने कहा कि शरण देने का फैसला मानवीय आधार पर किया गया है क्योंकि बोलीविया में इवो मोरालेस की जान को खतरा है.

हालांकि उन्होंने इस सवाल का कोई जवाब नहीं दिया कि इवो मोरालेस कब मैक्सिको पहुंचेंगे. वहीं, कुछ सूत्रों ने जानकारी दी है कि बोलीविया के पूर्व राष्ट्रपति को लाने के लिए मैक्सिको की वायु सेना का विमान पेरू की राजधानी लीमा पहुंच गया है. एक सूत्र ने बताया, ‘हमें इस बात की जानकारी नहीं है कि पूर्व राष्ट्रपति को लेकर विमान कब उड़ान भरेगा.’

काश पर्व के दिन भी महज 700 भारतीय श्रद्धालु करतारपुर पहुंचे | बुधवार, 13 नवंबर 2019

पहले दिन की धूमधाम के बाद करतारपुर कॉरीडोर को लेकर उत्साह फीका पड़ता दिखा. मंगलवार को गुरु नानक की 550वीं जयंती पर भारत से महज 700 श्रद्धालु ही पाकिस्तान स्थित इस पवित्र स्थल तक गए. वह भी तब जब पाकिस्तान ने इस मौके पर 20 डॉलर का वह शुल्क माफ कर दिया था जो हर श्रद्धालु से वसूला जाता है. उसने श्रद्धालुओं की संख्या की सीमा भी दोगुनी कर दी थी.

करतारपुर कॉरीडोर का उद्घाटन नौ नवंबर यानी शनिवार को हुआ था. उसने दिन करीब 500 श्रद्धालुओं का जत्था वहां गया. इनमें पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह और पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह शामिल थे. इसके बाद रविवार और सोमवार को 250 और 122 भारतीय श्रद्धालु वहां पहुंचे.

कुलभूषण जाधव को मौत की सजा के खिलाफ अपील की इजाजत देने के लिये पाकिस्तान आर्मी एक्ट बदलेगा | गुरूवार, 14 नवंबर 2018

पाकिस्तान में मृत्युदंड का सामना कर रहे कुलभूषण जाधव को अपनी सजा के खिलाफ एक सिविल अदालत में अपील दायर करने का अधिकार देने की इजाजत देने के लिये थल सेना कानून में संशोधन की तैयारी कर रहा है.

पाकिस्तान के रक्षा सूत्रों के मुताबिक, सरकार थल सेना कानून में संशोधन करने के मसौदे पर काम कर रही है, ताकि जाधव को अपनी दोषसिद्धि के खिलाफ एक दीवानी अदालत में अपील दायर करने की इजाजत मिल सके. यह कदम अंतरराष्ट्रीय न्यायालय (आईसीजे) के 17 जुलाई के फैसले के अनुपालन में उठाया जा रहा है. संशोधित कानून में सैन्य अदालतों द्वारा सुनाई गई सजा के खिलाफ दीवानी अदालतों में समाधान मांगने की प्रक्रिया की रूपरेखा निर्धारित की जाएगी.

नरेंद्र मोदी का ब्राजील दौरा, चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग से बातचीत | शुक्रवार, 15 नवंबर 2019

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ब्राजील दौरे पर चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग से बातचीत की. पीटीआई के मुताबिक दोनों नेताओं ने द्विपक्षीय संबंधों को मजबूती और नई ताकत देने के लिए व्यापार और निवेश से जुड़े मामलों पर गहन संपर्क बनाए रखने पर सहमति जताई. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 11वें ब्रिक्स शिखर सम्मेलन में हिस्सा लेने के लिए ब्राजील पहुंचे. ब्रिक्स विश्व की पांच उभरती अर्थव्यवस्थाओं का समूह है जिसमें ब्राजील, रूस, भारत, चीन और दक्षिण अफ्रीका शामिल हैं.

नरेंद्र मोदी ने इस आयोजन से अलग एक बैठक में चीनी राष्ट्रपति से मुलाकात की. उन्होंने कहा कि हाल में चेन्नई में दोनों नेताओं की अनौपचारिक शिखर वार्ता के बाद द्विपक्षीय संबंधों को नई ऊर्जा और दिशा मिली है. प्रधानमंत्री कार्यालय ने एक ट्वीट में कहा, ‘प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग के बीच बातचीत सार्थक रही. दोनों के बीच व्यापार और निवेश समेत अन्य प्रमुख मुद्दों पर चर्चा हुई.

श्रीलंका : राष्ट्रपति चुनाव के लिए मुस्लिम मतदाताओं को ले जा रही बसों पर गोलीबारी | शनिवार, 16 नवंबर 2019

उत्तर पश्चिम श्रीलंका में शनिवार को अल्पसंख्यक मुस्लिम मतदाताओं को ले जा रही बसों के एक काफिले पर कुछ बंदूकधारियों ने गोलियां चलाईं. यह घटना श्रीलंका में राष्ट्रपति चुनावों में मतदान से कुछ घंटे पहले हुई. इस हमलेे में किसी हताहत होने की सूचना नहीं मिली. हमलावरों ने सड़क पर टायर जलाये और 100 से अधिक वाहनों वाले एक काफिले पर हमला करने के लिए सड़क अवरुद्ध कर दिया था.

पुलिस ने बताया कि राष्ट्रपति चुनाव के लिए तटीय शहर पट्टालम के मुसलमान मतदान के लिये मन्नार जिले में जा रहे थे. कोलंबो के 240 किलोमीटर उत्तर में तांतरीमाले के एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि बंदूकधारियों ने गोलियां चलाईं और पथराव भी किया. उन्होंने दो बसों पर निशाना साधा लेकिन किसी के हताहत होने की खबर नहीं मिली है. पुलिस बल ने घटनास्थल पर पहुंच कर काफिले को सुरक्षा के साथ मतदान केंद्रों तक पहुंचाया और मतदान संपन्न कराया.

देश और दुनिया की अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें.