उत्तर प्रदेश में होमगार्ड की ड्यूटी लगाने में हुए करोड़ों रु के घोटाले की जद में आए नोएडा के जिला कमांडेंट होमगार्ड कार्यालय में संदिग्ध रूप से आग लगने की खबर है. पीटीआई के मुताबिक मामले में पुलिस ने अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया है. सूत्रों के मुताबिक जिस बक्से में आग लगी उसमें साल 2014 से अब तक विभिन्न सरकारी विभागों में प्रतिनियुक्त किए गए होमगार्ड के मस्टर रोल रखे थे. वे सभी जल गए हैं. एक अधिकारी ने बताया कि इस घटना की जांच के लिए नगर पुलिस अधीक्षक (एसपी सिटी) के नेतृत्व में एक टीम बनाई गई है.

नोएडा में होमगार्ड की ड्यूटी लगाने को लेकर करोड़ों रु का घोटाला सामने आया है. पता चला है कि होमगार्ड थानों में काम पर नहीं आ रहे थे, लेकिन उनकी हाजिरी लगाकर जनपद के विभिन्न थानाध्यक्षों की फर्जी हस्ताक्षर और मुहर के सहारे बैंक से उनका वेतन लिया जा रहा था. इस पूरे प्रकरण की जांच गौतम बुद्ध नगर की अपराध शाखा कर रही है. गौतम बुद्ध नगर के एसएसपी वैभव कृष्ण ने बताया, ‘देर रात पुलिस को सूचना मिली कि जिला कलेक्ट्रेट स्थित जिला कमांडेंट होमगार्ड के कार्यालय में आग लग गई है.’ उन्होंने आगे बताया कि अधिकारी मौके पर पहुंचे तो वहां उन्हें होमगार्ड के वेतन का मास्टर रोल वाला एक बड़ा बक्सा जली हुई अवस्था में पड़ा मिला. बक्से के अंदर मौजूद सभी मस्टर रोल पूरी तरह से जल गए थे.

एसएसपी के मुताबिक पहली नजर में लगता है कि जांच को प्रभावित करने के लिए ही बक्से में आग लगाई गई है. उधर, उत्तर प्रदेश के पुलिस महानिदेशक ओपी सिंह ने इसे गंभीर मामला बताया है. उन्होंने कहा, ‘इसकी जांच के लिए गुजरात से विधि विज्ञान (फॉरेंसिक साइंस) की टीम बुलाई जाएगी.’