योग गुरु रामदेव द्वारा तमिलनाडु के प्रसिद्ध समाज सुधारक पेरियार को कथित तौर पर ‘दलित आतंकवादी’ कहे जाने के बाद विवाद बढ़ता नजर आ रहा है. द्रमुुक ने लोकसभा में बाबा रामदेव की टिप्पणी का मुद्दा उठाते हुए कहा कि पेरियार को लेकर इस तरह के बयान स्वीकार नहीं किए जाएंगे.

शून्यकाल के दौरान द्रमुक के सेंथिल कुमार ने रामदेव की कथित टिप्पणी का मुद्दा उठाते हुए कहा कि योगगुरु ने पेरियार को ‘दलित आतंकवादी’ कहा है. यह बहुत ही आपत्तिजनक है. इसको लेकर लोगों में आक्रोश है उन्होंने कहा कि सदन से यह संदेश जाना चाहिए कि पेरियार के खिलाफ इस तरह की टिप्पणी स्वीकार नहीं की जाएगी.

योगगुरु बाबा रामदेव की पेरियार पर टिप्पणी को लेकर उनका वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है. इस वीडियो को लेकर बाबा रामदेव को दलित संगठनों की आलोचना का सामना करना पड़ रहा है. कई दलित संगठन पेरियार पर आपत्तिजनक टिप्पणी के लिए रामदेव की गिरफ्तारी की मांग कर रहे हैं. बाबा रामदेव के साक्षात्कार के बाद से पतंजलि के उत्पादों के बहिष्कार की मुहिम भी चलाई जा रही है.