लोकसभा में विपक्षी दलों के सदस्यों ने जम्मू कश्मीर से नेशनल कांफ्रेंस के सांसद फारूक अब्दुल्ला को हिरासत से रिहा करने और उन्हें संसद के शीतकालीन सत्र में शामिल होने की इजाजत देने की मांग की है. लोकसभा में शून्यकाल के दौरान तृणमूल कांग्रेस, बसपा और नेशनल कांफ्रेंस सांसदों ने अपनी-अपनी सीटों पर खड़े होकर यह मांग की.

तृणमूल कांग्रेस के सौगत राय ने कहा, ‘फारूक अब्दुल्ला को रिहा किया जाए.’ बसपा के दानिश अली ने भी कहा, ‘फारूक अब्दुल्ला को (लोकसभा के सत्र में) बुलाया जाए. इसके लिये स्पीकर की ओर से निर्देश दिया जाना चाहिए.’ नेकां सांसद हसनैन मसूदी ने अपनी पार्टी के लोकसभा सदस्य फारूक अब्दुल्ला को हिरासत से रिहा करने की मांग करते हुए कहा, ‘यदि फारूक को रिहा नहीं किया जाता है तो फिर क्या इज्जत है जम्मू कश्मीर की?’

फारूक अब्दुल्ला को श्रीनगर में हिरासत में रखे जाने का मुद्दा लोकसभा के शीतकालीन सत्र के पहले दिन सोमवार को भी विपक्षी सदस्यों ने सदन में उठाते हुए हंगामा किया था. इस मुद्दे को लेकर कांग्रेस के सदस्यों ने सदन से बर्हिगमन भी किया था.