महाराष्ट्र में सियासी सस्पेंस के बीच शिवसेना मुखिया उद्धव ठाकरे ने आज मुंबई में पार्टी विधायकों के साथ एक बैठक की. ठाणे से पार्टी विधायक प्रताप सरनाइक के मुताबिक इस बैठक में विधायकों ने कहा कि वे उद्धव ठाकरे को मुख्यमंत्री देखना चाहते हैं, लेकिन आखिरी फैसला शिवसेना प्रमुख पर ही छोड़ दिया गया है. बैठक में यह भी फैसला हुआ कि सरकार का गठन होने तक सभी विधायक मुंबई में ही रहेंगे.

इससे पहले शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे और उनके बेटे आदित्य ठाकरे ने गुरुवार रात राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) अध्यक्ष शरद पवार से मुलाकात की. पीटीआई के मुताबिक यह मुलाकात दक्षिणी मुंबई स्थित शरद पवार के निवास ‘सिल्वर ओक’ पर हुई. एनसीपी मुखिया कल ही दिल्ली से मुंबई लौटे थे. बैठक ऐसे वक्त हुई जब कांग्रेस नेता पृथ्वीराज चव्हाण ने दिल्ली में कहा कि उनकी पार्टी और एनसीपी के बीच महाराष्ट्र में सरकार बनाने को लेकर सभी मुद्दों पर पूरी सहमति है. उनका यह भी कहना था कि अब दोनों दल गठबंधन की संरचना को पूर्णरूप देने के लिए मुंबई में शिवसेना से बातचीत करेंगे.

भाजपा और शिवसेना ने महाराष्ट्र में विधानसभा चुनाव एक साथ मिलकर लड़ा था और दोनों दलों ने 288 सदस्यीय सदन में क्रमश: 105 और 56 सीटों पर जीत दर्ज आसानी से बहुमत का आंकड़ा हासिल कर लिया था. लेकिन मुख्यमंत्री पद को लेकर दोनों की राहें जुदा हो गईं. इसके बाद शिवसेना ने कांग्रेस-एनसीपी गठबंधन से बातचीत शुरू की थी.