महाराष्ट्र में सियासी उठापटक के बीच राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) के विधायक दल के नेता जयंत पाटिल ने दावा किया है कि उनके साथ पार्टी के 51 विधायक हैं. उन्होंने मीडिया से बातचीत में कहा कि 51 विधायकों के हस्ताक्षर की चिट्ठी लेकर वे राजभवन गए, लेकिन राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी दिल्ली में हैं. जयंत पाटिल ने यह भी कहा, ‘मैं अजित पवार से मुलाकात करके उनको मनाने की कोशिश करूंगा.’

खबरों के मुताबिक पवार परिवार ने भी अजित पवार को मनाने के प्रयास तेज कर दिए हैं. सूत्रों के मुताबिक शरद पवार और सुप्रिया सुले ने अजित पवार के भाई श्रीनिवास पवार से बात की है. इस वक्त शरद पवार के घर पर बैठक चल रही है जिसमें कांग्रेस और एनसीपी नेता मौजूद हैं. अशोक चव्हाण और बालासाहेब थोराट भी इस बैठक में हैं. एनसीपी इस कोशिश में है कि अजित पवार फडणवीस सरकार में उपमुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे दें.

रविवार सुबह शिवसेना नेता संजय राउत ने भी दावा किया कि शिवसेना-एनसीपी-कांग्रेस गठबंधन के पास 165 विधायकों का समर्थन है. राउत का कहना था, ‘शिवसेना, एनसीपी और कांग्रेस के पास 165 विधायक हैं. अगर राज्यपाल पहचान परेड के लिए बुलाते हैं तो दस मिनट में हम अपना बहुमत साबित कर सकते हैं.’