महाराष्ट्र में शिवसेना मुखिया उद्धव ठाकरे के मुख्यमंत्री के तौर पर शपथ ग्रहण की खबर आज सभी अखबारों के पहले पन्ने पर है. वे राज्य के 18वें और ठाकरे परिवार से पहले मुख्यमंत्री हैं. कल देर शाम उन्होंने पहली कैबिनेट बैठक भी की. इसके अलावा नाथूराम गोडसे को देशभक्त बताने वाले बयान के बाद भाजपा सांसद प्रज्ञा ठाकुर को संसदीय मामलों की रक्षा समिति से बाहर कर दिया गया है. वे संसद के शीतकालीन सत्र के दौरान भाजपा के संसदीय बोर्ड की बैठकों में भी हिस्सा नहीं ले सकेंगी. यह खबर भी अखबारों की प्रमुख सुर्खियों में शामिल है.

झारखंड : पोलिंग पार्टी को हेलिकॉप्टर छत्तीसगढ़ में छोड़ गया

झारखंड में मतदान दल के 18 अधिकारियों-कर्मचारियों को हेलिकॉप्टर छत्तीसगढ़ में छोड़ गया. इन लोगों की तैनाती नक्सल प्रभावित लातेहार जिले में हुई थी. लेकिन हेलिकॉप्टर रास्ता भटक गया और उन्हें छत्तीसगढ़ के प्रतापपुर में एक खुले मैदान में उतार कर वापस चला गया. दैनिक जागरण के मुताबिक इसके बाद स्थानीय कलेक्टर ने तत्काल राज्य निर्वाचन आयोग से संपर्क कर उसे पूरे मामले की जानकारी दी जिसने झारखंड के निर्वाचन आयोग को सूचित किया. घंटों चली इस पूरी कवायद में हेलिकॉप्टर फिर वापस आया और मतदान दल को लेकर वापस लौटा.

ऑनलाइन स्ट्रीमिंग साइटों की सामग्री सेंसर नहीं होगी

केंद्र सरकार ने ऑनलाइन स्ट्रीमिंग साइटों की सामग्री यानी कंटेंट सेंसर करने से इनकार किया है. दैनिक भास्कर के मुताबिक केंद्रीय मंत्री संजय धोत्रे ने गुरुवार को संसद में यह जानकारी दी. उन्होंने कहा कि सरकार की ऐसी कोई योजना नहीं है. देश की कई अदालतों में इस मांग से जुड़ी याचिकाएं दायर की गई हैं. इनमें इन साइटों की सामग्री को अश्लील बताता गया है. संजय धोत्रे ने कहा कि अदालत अभिव्यक्ति की आजादी का सम्मान करने के लिए प्रतिबद्ध है.

पाकिस्तान : सुप्रीम कोर्ट से मिली जनरल कमर जावेद बाजवा को राहत

पाकिस्तान के सुप्रीम कोर्ट ने सेना प्रमुख जनरल कमर जावेद बाजवा को राहत देते हुए उन्हें छह महीने का सशर्त सेवा विस्तार दे दिया है. द स्टेट्समैन के मुताबिक अदालत ने अपने फैसले में पाकिस्तान सरकार को छह महीने के भीतर इस मामले में आवश्यक कानून लाने का निर्देश दिया है. जनरल बाजवा का तीन साल का कार्यकाल गुरुवार आधी रात को समाप्त हो रहा था. अब वे अगले छह महीने तक सेना प्रमुख के रूप में बने रह सकते हैं. प्रधानमंत्री इमरान खान ने 19 अगस्त को एक आधिकारिक अधिसूचना के माध्यम से जनरल बाजवा को तीन साल का सेवा विस्तार दे दिया था. उन्होंने इसके पीछे सुरक्षा हालात का हवाला दिया था.