प्रसून जोशी – मोदीजी, आपने तो कहा था डबल डिजिट ग्रोथ होगी पर जीडीपी तो गिरती ही जा रही है

मोदीजी – मुझे बतांइए, 4.5 में कौन-कौन से डिजिट हैं?

प्रसून जोशी – 4 और 5

मोदीजी – तो हो तो गई डबल डिजिट ग्रोथ... बोलो हुई कि नहीं?


फ़कीरी वाले बाबा – तुम क्या लेकर आए थे और क्या लेकर जाओगे?

अजित पवार – विधायकों का समर्थन पत्र लेकर आया था और क्लीन चिट लेकर चला गया!


पत्रकार – महाराष्ट्र में इतनी उठापटक के बाद भी भाजपा की सरकार नहीं बन पाई, क्या कहेंगे?

अमित शाह – मैं भी परेशान हूं. जब मंदिर नहीं बन रहा था तब सरकार आसानी से बन जाती थी.


सप्ताह का कार्टून: महाराष्ट्र जनादेश-2019


मोदीजी – मितरों, 180 दिनों में सरकार ने विकास के लिए दिन-रात काम किया है और आगे भी करते रहेंगे

जनता – शायद इसीलिए हमारी और आपकी स्थिति एक जैसी होने वाली है. आप पहले से फकीर थे और हम अब होते जा रहे हैं


भक्त – उद्धव ठाकरे ने शपथ लेने में इतना खर्च कर दिया, ये ठीक बात नहीं है

शिवसैनिक – हम भी चाहते थे कि बिना किसी को बताये सुबह-सुबह राजभवन में शपथ ले लें... लेकिन राज्यपाल महोदय माने ही नहीं...


पुरानी फिल्मों का सबसे मुश्किल काम - गवाह को सही-सलामत अदालत तक पहुंचाना.

आज की राजनीति का सबसे मुश्किल काम - विधायकों को सही-सलामत विधानसभा तक पहुंचाना.