उत्तर प्रदेश में एक सनसनीखेज मामले में एक दंपत्ति ने कथित तौर पर अपने बेटे और बेटी को जहर का इंजेक्शन देने के बाद आठवीं मंजिल से कूदकर आत्महत्या कर ली. उनके साथ एक अन्य महिला ने भी इमारत से कूदकर आत्महत्या की है. पीटीआई के मुताबिक यह गाजियाबाद की घटना है. पुलिस ने मंगलवार को बताया कि मृतक शख्स की पहचान गुलशन के तौर पर की गई है. उसने अपनी पत्नी प्रवीन और संजना नाम की अन्य महिला के साथ कृष्णा सोसायटी के अपने अपार्टमेंट की आठवीं मंजिल से कूदकर आत्महत्या कर ली. संजना और गुलशन बिजनेस पार्टनर थे.

शहर के पुलिस अधीक्षक मनीष मिश्रा ने बताया कि आत्महत्या करने से पहले दंपत्ति ने सोमवार रात को अपने बेटे ऋतिक (11) और बेटी ऋतिका (17) को जहर का इंजेक्शन दे दिया था. उन्होंने अपने पालतू खरगोश को भी मार दिया था. शवों के क्रिया कर्म के लिए घर की दीवारों पर 500-500 के नोट भी चिपकाकर छोड़े गए थे.

दीवार पर लिखा सुसाइड नोट

बताया जा रहा है कि गुलशन का दिल्ली में जीन्स का कारोबार था और संजना उसकी फैक्ट्री में मैनेजर थी. आर्थिक तंगी के चलते उन्हें दिल्ली के शालीमार गार्डन से गाजियाबाद के इंदिरापुरम शिफ्ट होना पड़ा था. पुलिस को गुलशन के फ्लैट से दीवार पर लिखा एक सुसाइड नोट भी मिला है. इसमें राकेश वर्मा नाम के एक रिश्तेदार को इस घटना का जिम्मेदार बताया गया है. बताया जा रहा है कि राकेश वर्मा ने गुलशन को बकाया के कुछ चेक दिए थे जो बाउंस हो गए.