एसपीजी संशोधन विधेयक कल राज्यसभा में भी पारित हो गया. इसमें सिर्फ प्रधानमंत्री और उनके परिवार को एसपीजी सुरक्षा देने का प्रावधान है. कांग्रेस ने इस विधेयक पर चर्चा के दौरान वाकआउट किया. गांधी परिवार की एसपीजी सुरक्षा कुछ समय पहले ही हटाई गई है और पार्टी इसे राजनीतिक बदले की कार्रवाई बता रही है. उधर, गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि एसपीजी सुरक्षा कोई स्टेटस सिंबल नहीं है. इस खबर को आज के ज्यादातर अखबारों ने पहले पन्ने पर जगह दी है. इसके अलावा नासा ने कहा है कि उसे भारत के चंद्रयान 2 के लैंडर विक्रम का मलबा मिल गया है. बीते सितंबर में आखिरी चरण में लैंडर का संपर्क टूट गया था. इस खबर को भी कई अखबारों ने पहले पन्ने पर जगह दी है.

हैदराबाद की कंपनी से 170 करोड़ लेने पर कांग्रेस को आयकर विभाग का नोटिस

आयकर विभाग ने कांग्रेस को एक नोटिस जारी कर एक कंपनी से कथित तौर पर 170 करोड़ लेने पर जवाब मांगा है. बताया जा रहा है कि कांग्रेस को यह रकम हैदराबाद स्थित ‘मेघा इंफ्रास्ट्रक्चर एंड इंजीनियरिंग’ ने भेजी थी. दैनिक जागरण के मुताबिक विभाग 3,300 करोड़ रुपये के हवाला रैकेट के एक मामले में कर चोरी की जांच कर रहा है. अधिकारियों ने मंगलवार को बताया कि कांग्रेस को यह नोटिस मामले की जांच को आगे बढ़ाने के मकसद से जारी किया गया है. बुनियादी ढांचा क्षेत्र से जुड़े अग्रणी कारपोरेट घरानों के दिल्ली, मुंबई और हैदराबाद के कई ठिकानों पर बीते महीने मारे गए छापों के बाद यह मामला सामने आया था. इस मामले में कांग्रेस और आंध्र प्रदेश के एक सियासी दल के कुछ पदाधिकारी आयकर विभाग की निगाह में हैं.

पांच सालों में आईआईटी के 50 छात्रों ने आत्महत्या की

बीते पांच सालों में देश के 23 आईआईटी संस्थानों में 50 छात्रों ने आत्महत्या की है. इनमें से अकेले 14 मौतें आईआईटी गुवाहाटी में हुईं. इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक यह जानकारी केंद्र सरकार ने ही दी है. छात्रों की आत्महत्याओं के मामले में दूसरे नंबर पर आईआईटी मद्रास और आईआईटी बॉम्बे हैं जहां पिछले पांच सालों में सात छात्रों ने आत्महत्या की. आईआईटी दिल्ली में चार, खड़गपुर में पांच, रुड़की में दो और कानपुर आईआईटी में एक छात्र ने आत्महत्या की. आईआईएम संस्थानों की बात करें तो इनमें बीते पांच सालों में 20 दस छात्रों ने आत्महत्या की.

अब मोबाइल पोस्टपेड प्लान भी महंगे हो सकते हैं

प्रीपेड ग्राहकों को झटका देने के बाद जल्दी ही मोबाइल कंपनियां पोस्टपेड प्लान भी महंगा कर सकती हैं. हिंदुस्तान के मुताबिक आने वाले वक़्त में एयरटेल और वोडाफ़ोन-आइडिया अपनी पोस्टपेड दरें बढ़ा सकते हैं. वोडाफोन-आइडिया और एयरटेल की प्रीपेड दरें मंगलवार से महंगी हो गई हैं जबकि जियो का टैरिफ छह दिसंबर से बढ़ जाएगा. इन कंपनियों का मानना है कि सेवाओं की गुणवत्ता बनाए रखने के लिए यह जरूरी है. वोडाफोन-आइडिया और एयरटेल को बीती तिमाही में 70 हजार करोड़ रु से भी ज्यादा का घाटा हुआ है.