पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम को आखिरकार साढ़े तीन महीने बाद जमानत मिल गई. यह खबर आज के सभी अखबारों के पहले पन्ने पर है. सीबीआई ने उन्हें आईएनएक्स मीडिया मामले में अगस्त मे गिरफ्तार किया था. इसके बाद से वे लगातार या तो जांच एजेंसियों की हिरासत में रहे या फिर न्यायिक हिरासत में. इसके अलावा केंद्रीय मंत्रिमंडल ने नागरिकता संशोधन विधेयक को मंजूरी दे दी है. इसके कानून बनने के बाद भारत के पड़ोसी देशों से आने वाले गैरमुस्लिम लोगों को आसानी से भारत की नागरिकता मिल सकेगी. यह खबर भी अखबारों की प्रमुख सुर्खियों में शामिल है.

भारत अब मुसलमानों का देश नहीं रहा : महबूबा मुफ्ती

जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने नागरिकता संशोधन विधेयक को कैबिनेट की मंजूरी मिलने पर नाराजगी जाहिर की है. जनसत्ता की खबर के मुताबिक उनके ट्विटर हैंडल पर एक ट्वीट में कहा गया है, ‘भारत - मुसलमानों का देश नहीं’. जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाने के फैसले के बाद से ही महबूबा मुफ्ती को हिरासत में रखा गया है. उनका ट्विटर अकाउंट उनकी बेटी सना इल्तजा चला रही हैं. नागरिकता संशोधन विधेयक को अगले हफ्ते लोकसभा में पेश किया जा सकता है.

ई-फार्मेसी कंपनियां स्टॉक नहीं रख सकेंगी

ई-फार्मेसी कंपनियों को दवाओं का स्टॉक रखने का अधिकार नहीं होगा. इन कंपनियों को भी खाना डिलिवर करने वाली कंपनियों (स्विगी, जोमैटो आदि) की तरह केवल ग्राहक के पास तक दवा डिलीवर करने की अनुमति होगी. दैनिक जागरण के मुताबिक दवाओं की ऑनलाइन बिक्री पर नियमन के लिए स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा तैयार संशोधित मसौदे में यह बात कही गई. फिलहाल ई-फार्मेसी कंपनियों के लिए अलग से कोई कानून नहीं है और ये सभी कंपनियां बिना लाइसेंस के ही काम कर रही हैं. देश में करीब 50 ऑनलाइन फार्मेसी कंपनियां काम कर रही हैं.

सुंदर पिचाई एल्फाबेट के सीईओ बने

गूगल के मुखिया सुंदर पिचाई अब इसकी मूल यानी पेरेंट कंपनी एल्फाबेट के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) बन गए हैं. दैनिक भास्कर के मुताबिक गूगल के सह संस्थापक लैरी पेज (46) के सीईओ पद से इस्तीफा देने के बाद कंपनी ने यह फैसला लिया है. दूससे संस्थापक सर्गेई ब्रिन (46) ने भी कंपनी के अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया है. एल्फाबेट 893 अरब डॉलर (करीब 64 लाख करोड़ रुपये) की बाजार पूंजी के साथ दुनिया की तीसरी बड़ी कंपनी है. चेन्नई में पले-बढ़े सुंदर पिचाई की हाल के समय में गूगल का कारोबार बढ़ाने में अहम भूमिका मानी जाती है.