‘इस तरह तो अदालत और कानून का कोई फायदा ही नहीं. जिसको मन हो बंदूक  उठाओ जिसको मारना हो मारो.’  

— मेनका गांधी, भाजपा नेता और सांसद

मेनका गांधी का यह बयान हैदराबाद बलात्कार मामले के आरोपितों की पुलिस मुठभेड़ में मौत पर आया. उन्होंने पुलिस पर सवाल उठाते हुए कहा कि आरोपितों को वैसे भी फांसी की सजा मिलनी थी, लेकिन जो हुआ है उससे एक भयानक परिपाटी स्थापित होगी. कई मानवाधिकार कार्यकर्ता भी इस मुठभेड़ पर सवाल उठा रहे हैं.

‘कोई भारतीय अध्ययन नहीं है जो बताता हो कि प्रदूषण से उम्र कम होती है.’

— प्रकाश जावड़ेकर, पर्यावरण मंत्री

प्रकाश जावड़ेकर ने यह बात तृणमूल कांग्रेस की सांसद काकोली घोष के सवाल पर कही. उन्होंने यह भी कहा कि ऐसी बातें कहकर डर का माहौल नहीं बनाना चाहिए. काकोली घोष ने पूछा था कि कई अध्ययनों में यह बात सामने आई है कि प्रदूषण के चलते लोगों की उम्र साढ़े चार साल तक कम हो रही है और ऐसे में सरकार इस समस्या से निपटने के लिए क्या कदम उठा रही है.


‘दुकान बंद करनी पड़ेगी अगर राहत नहीं मिली.’  

— कुमार मंगलम बिड़ला, आदित्य बिड़ला ग्रुप के चेयरमैन

कुमार मंगलम बिड़ला ने यह बात वोडाफोन-आइडिया के बारे में कही. उन्होंने सरकार से राहत न मिलने की स्थिति में कंपनी में किसी और तरह का निवेश नहीं करने का संकेत दिया. कुमार मंगलम बिड़ला ने कहा कि इस बात का कोई मतलब नहीं कि डूबते पैसे में और पैसा लगा दिया जाए. उनके मुताबिक राहत न मिलने की स्थिति में वे कंपनी को दिवाला प्रक्रिया में ले जाएंगे.


‘भारतीय पासपोर्ट के लिए आवेदन किया हुआ है.’

— अक्षय कुमार, फिल्म अभिनेता

अक्षय कुमार ने यह बात दिल्ली में एक कार्यक्रम में कही. उनके मुताबिक जब उनकी काफी फिल्मे फ्लॉप हो रही थीं तो कनाडा के एक दोस्त ने कहा उन्हें वहां आने के लिए कहा. अक्षय कुमार का कहना था, ‘मुझे लगा कि मेरा करियर खत्म हो गया. उसके बाद मुझे कनाडा का पासपोर्ट मिला. उसके बाद मेरी पन्द्रहवीं फिल्म चल गई. उसके बाद मैंने कभी मुड़कर नहीं देखा. लेकिन, मैने कभी नहीं सोचा कि उस पासपोर्ट को बदलूं.’