कई सारे टीजर्स और लंबे इंतजार के बाद टाटा मोटर्स ने अपनी प्रीमियम हैचबैक एल्ट्रॉज़ की बुकिंग शुरु कर दी है. टाटा मोटर्स ने इस कार को सबसे पहले दिल्ली ऑटो एक्सपो-2018 में कॉन्सेप्ट के तौर पर पेश किया था. तब कंपनी ने इस कार को 45एक्स कोडनेम दिया गया था. उसके बाद जेनेवा मोटर्स शो-2019 में एल्ट्रॉज़ के क्लोज़ टू प्रोडक्शन वर्ज़न की झलक देखने को मिली थी. जानकारी के मुताबिक एल्ट्रॉज़ कंपनी की पहली कार है जिसे अल्फा अर्किटेक्चर पर तैयार किया गया है. हल्का होने के साथ इस आर्किटेक्चर की खासियत है कि इस पर आधारित कार को किसी भी मॉडर्न रेन्ज में बदला जा सकता है. यानी इस प्लेटफॉर्म पर बनी कार को गैस, डीज़ल और इलेक्ट्रिसिटी किसी भी पॉवरट्रेन वर्ज़न में लॉन्च किया जा सकता है.

टाटा की इस पेशकश का न सिर्फ़ नाम बल्कि डिज़ाइन स्टाइल भी ‘एल्बट्रॉज’ चिड़िया से प्रेरित है. इस बात का सबसे ज्यादा अहसास किसी चिड़िया के पंख की तरह 90 डिग्री कोण पर खुलने वाले कार के डोर्स को देखकर होता है. टाटा की यह पेशकश कंपनी की 2.0 डिज़ाइन लैंग्वेज से प्रभावित दिखती है. कार के फ्रंट लुक की बात करें तो यहां आपको हनीकॉम्ब ग्रिल, डे-टाइम रनिंग लैंप के साथ बड़े फोग लैंप और प्रोजेक्टर हैडलैंप नज़र आते हैं. एल्ट्रॉज़ के फ्रंट और रियर एंड पर अच्छा-खासा क्रोम वर्क किया गया है जो इसकी खूबसूरती में चार चांद लगाता है.

एल्ट्रॉज़ के रियर हैंडल्स को विंडो फ्रेम के साथ ही लगाया गया है जिससे कार में मारुति-सुज़ुकी की नई स्विफ्ट की ही तरह 3-डोर इफेक्ट आता है. वहीं ब्लैक प्लास्टिक ट्रिम में लगाई गई शार्प डिज़ाइन की स्पिलिट एलईडी ब्रेक लाइट्स एल्ट्रॉज़ के रियर लुक को आकर्षक बनाती हैं. इंटीरियर के मामले में कार में 7- इंच का इंफोटेनमेंटमेंट सिस्टम दिया गया है. कार के डैशबोर्ड को ब्लैक-ग्रे फिनिशिंग दी गई है. अल्ट्रोज़ के सेंट्रल कंसोल और स्टीअरिंग व्हील के साथ भी दिया गया सिल्वर टच इसे जमकर प्रीमियम फील देता है.

कार की अन्य ख़ूबियों की बात करें तो इनमें- एमबिएंट लाइटिंग, एंड्रॉइड ऑटो व एप्पल कार प्ले, 6-स्पीकर हर्मन साउंड सिस्टम, कलर्ड मल्टी इंफो डिस्प्ले, पुश बटन स्टार्ट, स्टीअरिंग माउंटेड ऑडियो कंट्रोल्स और क्रूज़ कंट्रोल शामिल हैं. वहीं सुरक्षा के लिहाज से टाटा ने अल्ट्रोज़ को डुअल एयरबैग, ईबीडी के साथ एबीएस, कैमरे के साथ रियर पार्किंग सेंसर, हाई स्पीड अलर्ट और ड्राइवर-को ड्राइवर सीटबेल्ट रिमाइंडर जैसे फीचर्स से लैस किया है.

परफॉर्मेंस के लिहाज से एल्ट्रॉज़ के साथ टाटा की ही हैचबैक टिआगो वाला 1.2 लीटर क्षमता का पेट्रोल इंजन और सबकॉम्पैक एसयूवी नेक्सन का 1.5 लीटर क्षमता का डीज़ल इंजन जोड़ा गया है. ये दोनों ही इंजन बी-6 मानकों पर खरे उतरते हैं. अभी तक इस कार की कीमतों का खुलासा नहीं किया गया है. लेकिन 21000 रुपए का टोकन अमाउंट देकर इसे बुक करवाया जा सकता है. संभावना है कि अगले महीने के शुरुआती दिनों में ही टाटा इस कार की डिलेवरी शुरु कर देगी. जानकारों का कहना है कि अपने आकर्षक दामों के साथ टाटा एल्ट्रॉज़ भारतीय बाज़ार में मारुति-सुज़ुकी बलेनो, ह्युंडई अलाइट आई-20, होंडा जैज़ और टोयोटा ग्लान्ज़ा को टक्कर दे सकती है.

एमजी हेक्टर को गधे से खिंचवाया

राजस्थान का एक ग्राहक अपनी नई एमजी हेक्टर कार को गधे से खिंचवाकर सुर्ख़ियों में आ गया है. ग्राहक का नाम विशाल पंचौली है और वह उदयपुर का रहने वाले हैं. विशाल के मुताबिक उन्होंने तीन महीने पहले ही एमजी की एसयूवी हेक्टर खरीदी थी. लेकिन उसके बाद से ही उनकी कार से धुआं निकलने जैसी दिक्कतें आने लगीं. उनके मुताबिक जब वे समस्या लेकर कंपनी पहुंचे तो वहां लोगों ने चलताऊ काम कर अपना पल्ला झाड़ लिया. कई बार सही करवाने पर भी जब कार नहीं सुधरी तो उन्होंने इसे गधे से खिंचवाने का फैसला लिया. इस दौरान विशाल ने कार पर पोस्टर लगवाकर लोगों से इसे नहीं खरीदने की भी अपील की. जल्द ही इस वाकये का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया.

उधर, मामले पर प्रतिक्रिया देते हुए मॉरिस गैरेजेज़ (एमजी) के अधिकारियों ने ट्वीट किया है कि उन्होंने विशाल पंचौली की सभी समस्याएं सुलझाने के सभी प्रयास किए, लेकिन वे कंपनी की कस्टमर फर्स्ट पॉलिसी की आड़ में अनुचित लाभ उठाने की कोशिश में लगे रहे. एमजी ने हेक्टर को भारत में इसी साल जुलाई में लॉन्च किया था. तब से यह कार संतोषजनक प्रदर्शन करने में सफल रही है.

एक्सयूवी-300 बीएस-6 मानकों वाली महिंद्रा की पहली कार बनी

महिंद्रा एंड महिंद्रा ने अपनी नई सबकॉम्पैक एसयूवी एक्सयूवी-300 को बीएस-6 मानकों पर खरे उतरने वाले पेट्रोल इंजन से लैस किया है. यह उपलब्धि करने वाली एक्सयूवी-300 मंहिद्रा की पहली कार है. परफॉर्मेंस के लिहाज से यह इंजन पहले की ही तरह 110 पीएस की पॉवर और 200 एनएम का टॉर्क पैदा करने में सक्षम है. कंपनी ने एक्सयूवी के इस नए वर्ज़न के लिए सामान्य कीमतों से करीब बीस हजार रुपए ज्यादा कीमत तय की है. महिंद्रा ने एक्सयूवी-300 को इसी साल फरवरी में लॉन्च किया था.

महिंद्रा एंड महिंद्रा की एक्सयूवी-300 उसकी सहयोगी और दक्षिण कोरियाई कंपनी ‘सैंगयोंग’ की एसयूवी ‘टिवोली’ पर आधारित है. कंपनी ने अपनी इस नई कॉम्पैक एक्सयूवी को ब्लू, रेड, ऑरेंज, ब्लैक, व्हाइट और सिल्वर कलर ऑप्शन के साथ लॉन्च किया है. कंपनी का दावा है कि इस कार के साथ ऐसे कई फीचर्स दिए गए हैं जो सेगमेंट में पहली बार दिखते हैं. एक्सयूवी-300 के टॉप एंड वेरिएंट के साथ फ्रंट पार्किंग सेंसर, डुअल ज़ोन ऑटोमेटिक क्लाइमेट कंट्रोल, 7.0 इंच का टचस्क्रीन इंफोटेनमेंट सिस्टम, फैक्ट्री फिटेड इलेक्ट्रिक सनरूफ और सात एयरबैग्स जैसे फीचर्स आते हैं.

इस कार के डीज़ल वेरिएंट में 1.5 लीटर क्षमता का वही इंजन लगाया गया है जो कंपनी की ही एमपीवी मराज़ो में देखने को मिलता है. यह इंजन 123 बीएचपी की अधिकतम पॉवर के साथ 300 एनएम का टॉर्क पैदा कर सकता है. कंपनी ने एक्सयूवी-300 के लिए दिल्ली में शुरुआती एक्सशोरूम कीमत 7.90 लाख रुपए तय की है जो कार के टॉप वेरिएंट के लिए 11.99 लाख रुपए तक जाती है. भारतीय बाज़ार में महिंद्रा की यह पेशकश मारुति-सुज़ुकी ब्रेज़ा, टाटा नेक्सन, फोर्ड इकोस्पोर्ट, होंडा डब्ल्यूआरवी और रेनो डस्टर को टक्कर दे रही है.

ट्रायम्फ की नई क्रूज़र बाइक रॉकेट 3

ब्रिटिश बाइक निर्माता कंपनी ट्रायम्फ ने भारत में अपनी नई क्रूज़र बाइक रॉकेट 3 लॉन्च कर दी है. कंपनी ने भारत में इस बाइक की शुरुआती एक्सशोरूम कीमत 18 लाख रुपए तय की है. ट्रायम्फ ने अपनी इस पेशकश के दो वेरिएंट- रॉकेट 3 आर और रॉकेट 3 जीटी बाज़ार में उतारे हैं. रॉकेट 3 को पूरी तरह एल्युमिनियम चेसी पर तैयार किया गया है ताकि बाइक की मजबूती को प्रभावित किए बिना उसके वजन को कम किया जा सके.

रॉकेट 3 के साथ इस्तेमाल किया गया इंजन भी आम इंजनों से करीब 18 किलोग्राम हल्का है. ट्रायम्फ ने इस बाइक को 2500 सीसी क्षमता के 3-सिलेंडर वाले इंजन से लैस किया है. कंपनी का दावा है कि यह दुनिया की यह किसी भी बाइक में लगाया गया अब तक का सबसे बड़ा इंजन है. समझने के लिहाज से देखें तो इस इंजन की क्षमता फोर्ड एंडेवर, टोयोटा फॉर्च्यूनर और महिंद्रा स्कॉर्पियो जैसी एसयूवी के साथ आने वाले इंजनों के तकरीबन बराबर है. ट्रायम्फ रॉकेट 3 में लगा यह दमदार इंजन 221 एनएम का टॉर्क पैदा करता है जो किसी बाइक के लिहाज से एक और रिकॉर्ड है. बाज़ार में ट्रायम्फ रॉकेट 3 का मुकाबला डुकाटी डियावल और डुकाटी एक्स डियावल जैसी बाइकों से हो सकता है.