प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शनिवार को गंगा बैराज की सीढ़ियां चढते वक्त अचानक फिसल गये. प्रधानमंत्री राष्ट्रीय गंगा परिषद् की बैठक के सिलसिले में कानपुर पहुंचे थे. गंगा बैराज की सीढियों पर प्रधानमंत्री अचानक फिसलकर गिर गये. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सुरक्षा में तैनात एसपीजी के जवानों ने उन्हें तुरंत संभाला. मौके पर अफरातफरी मच गयी, हालांकि प्रधानमंत्री को किसी तरह की चोट नहीं लगने की खबर है. फिसलने की वजह एक सीढ़ी का ऊंचा होना बताई गई है. इस बारे में मंडलायुक्त सुधीर एम बोबडे ने बताया कि एसपीजी को इस बात की सूचना पहले दे दी गई थी.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी विशेष विमान से सुबह कानपुर के चकेरी हवाई अड्डे पर उतरे. वहां उनका स्वागत मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ उनके मंत्रिमंडल के सहयोगियों तथा केंद्रीय मंत्रियों ने किया. करीब दो घंटे की लंबी बैठक में नमामि गंगे के अगले चरण और नए एक्शन प्लान को लेकर विमर्श के साथ ही कई महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए. बैठक के बाद मोदी ने अटल घाट पहुंचकर स्टीमर के जरिए गंगा की सफाई का निरीक्षण किया. प्रधानमंत्री अटल घाट पहुंचे और गंगा को नमन किया.

गंगा परिषद् की बैठक में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने भी हिस्सा लिया. इस दौरान केंद्रीय जल शक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत, केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर और बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी भी मौजूद रहे.