विनायक दामोदर सावरकर के पोते ने सावरकर के खिलाफ बयानबाजी करने को लेकर कांग्रेस नेता राहुल गांधी की कड़ी आलोचना की है. रंजीत सावरकर ने कहा है कि वे राहुल गांधी के बयान के खिलाफ हाईकोर्ट में मानहानि का मुकदमा करेंगे. उन्होंने कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष के खिलाफ केस दर्ज कराने की बात भी कही है.

मुंबई में रविवार को इंडिया टुडे से बातचीत में रंजीत सावरकर ने कहा, ‘राष्ट्रीय चेहरों का अपमान करना कांग्रेस के लिए नई बात नहीं है. महान नेताओं का अपमान करना कांग्रेस के डीएनए में है.’ उन्होंने महाराष्ट्र की शिवसेना सरकार को सलाह दी कि राहुल गांधी के इस बयान के विरोध में मंत्रिमंडल से कांग्रेस के मंत्रियों को बर्खास्त करें.

रंजीत सावरकर का कहना था, ‘मैं शिवसेना से अपील करता हूं कि कांग्रेस नेताओं को मंत्रीपद से हटाया जाए, मेरी इच्छा है कि महाराष्ट्र में सरकार में कांग्रेस को शामिल नहीं किया जाए. इसके बावजूद सरकार नहीं गिरेगी. भाजपा और शिवसेना सरकार बना सकते हैं, सरकारें आती-जाती है लेकिन ऐसा अपमान बर्दाश्त नहीं करना चाहिए.’

रंजीत सावरकर ने राज्य के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे से यह मांग भी की है कि सावरकर का अपमान करने के लिए राहुल गांधी के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर उन्हें तुरंत गिरफ्तार किया जाना चाहिए.

शनिवार को दिल्ली में आयोजित कांग्रेस की ‘भारत बचाओ रैली’ में राहुल गांधी ने कहा था कि उनका नाम राहुल गांधी है, ‘राहुल सावरकर नहीं है’ और वह सच बोलने के लिए कभी माफी नहीं मांगेंगे. भाजपा ने राहुल गांधी से उनके ‘रेप इन इंडिया’ बयान के लिए माफी मांगने की मांग की थी.