दिल्ली-एनसीआर में एक बार फिर भूकंप के तेज झटके महसूस किए गए हैं. एएनआई ने नेशनल सेंटर फॉर सिस्मोलॉजी के हवाले से बताया है कि भूकंप की तीव्रता रिक्टर स्केल पर 4.5 थी. भूकंप का केंद्र दिल्ली से सटे गुरुग्राम से 63 किमी दूर दक्षिण-पश्च‍िम में था. भूकंप के ये झटके शाम करीब सात बजे महसूस किए गए.

दिल्ली-एनसीआर में भूकंप के झटके महसूस होने के बाद लोग घरों से बाहर निकलने लगे. हालांकि, इस भूकंप की वजह से अब तक किसी भी तरह के जान-माल के नुकसान की खबर सामने नहीं आई है.

दिल्ली-एनसीआर में बीते अप्रैल से हल्की और मध्यम तीव्रता के 15 से ज्यादा भूकंप आ चुके हैं. देश की राजधानी भूकंप के लिहाज से जोन चार में आती है. जोन पांच यानी भूकंप के लिहाज से सबसे ज्यादा जोखिम में आने वाला हिमालयी क्षेत्र इससे सटा है. वहां आने वाले भूकंपों के झटके दिल्ली में भी महसूस किए जाते हैं. इस लिहाज से विशेषज्ञ कई बार आगाह कर चुके हैं कि राजधानी और इसके आसपास के शहरों को इस आपदा के प्रबंधन को लेकर एक रणनीति बनानी चाहिए.