नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) का समर्थन करने वाले बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (एनआरसी) को बिहार में लागू नहीं करने की बात कही है. शुक्रवार को पटना में नीतीश कुमार ने दो टूक कहा कि बिहार में एनआरसी लागू नहीं होगा.

बिहार सहित पूरे देश में एनआरसी लागू किए जाने के गृह मंत्री अमित शाह के बयान को लेकर जब मीडिया ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से सवाल किया तो उनका कहना था, ‘काहे का एनआरसी. बिल्कुल लागू नहीं होगा एनआरसी.’

बिहार में सत्तारुढ़ जेडीयू द्वारा सीएए को समर्थन दिए जाने के बाद से पार्टी के अंदर काफी बवाल मचा हुआ था. नीतीश कुमार की पार्टी के कई नेताओं ने इस फैसले पर असहमति जताई थी. जेडीयू नेता प्रशांत किशोर भी पार्टी के इस फैसले से निराश थे.

इसके बाद प्रशांत ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से मुलाकात की थी. इस मुलाकात के बाद उन्होंने कहा था, ‘नीतीश कुमार ने भरोसा दिया है कि बिहार में एनआरसी लागू नहीं होगा.’