दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने मोदी सरकार पर अनधिकृत कॉलोनियों के निवासियों को धोखा देने का आरोप लगाया है. उन्होंने कहा है कि केंद्र सरकार ने अनधिकृत कॉलोनियों के निवासियों की संपत्तियों की रजिस्ट्री नहीं कराई है. केजरीवाल ने इन कॉलोनियों के निवासियों को आश्वासन दिया है कि आम आदमी पार्टी की सरकार यह काम जल्द करवाएगी.

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने केंद्र पर यह आरोप मीडिया में आई उन खबरों के आधार पर लगाया है जिनमें कहा गया है कि भाजपा अनधिकृत कॉलोनियों में केवल कुछ परिवारों की संपत्तियों का पंजीकरण करेगी. रविवार को उन्होंने एक ट्वीट में लिखा, ‘रजिस्ट्री का क्या हुआ? कच्ची कॉलोनियों के साथ फिर धोखा? लोगों को उम्मीद थी आज रजिस्ट्री शुरू हो जाएगी. लेकिन फिर धोखा? पहले कांग्रेस झूठे वादे करती थी, अब भाजपा ने भी वही किया पर चिंता मत करना. हमने कच्ची कालोनियों में सभी विकास के काम करवाए, अब इनसे रजिस्ट्री भी करवा के देंगे.’

इससे पहले रविवार को दिल्ली की अनधिकृत कॉलोनियों को नियमित किए जाने को लेकर भाजपा की ओर से ‘धन्यवाद रैली’ का आयोजन किया गया था. इसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कई मुद्दों पर केजरीवाल सरकार पर हमला बोला था.

दिल्ली के रामलीला मैदान में हुई इस रैली के दौरान नरेंद्र मोदी ने कहा था, ‘संसद में एक ही सत्र में दो बिल पारित हुए हैं. एक बिल में दिल्ली के 40 लाख लोगों को अधिकार दे रहा हूं और ये झूठ फैला रहे हैं कि मैं अधिकार छीनने वाला कानून बना रहा हूं. यह झूठ चलने वाला नहीं है, देश स्वीकार करने वाला नहीं है. मैं झूठ फैलाने वालों को चुनौती देता हूं, मेरे काम की पड़ताल कीजिए. कहीं पर दूर-दूर तक भेदभाव की बू आती है तो देश के सामने लाकर रख दीजिए.’