आईएमएफ ने भारतीय अर्थव्यवस्था को गंभीर सुस्ती की चपेट में बताया, कहा - तत्काल नीतिगत कदमों की जरूरत

अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष यानी आईएमएफ ने भारतीय अर्थव्यवस्था को लेकर बड़ी चेतावनी दी है. उसका कहना है कि अर्थव्यवस्था इस समय गंभीर सुस्ती के दौर में है और सरकार को इसे उबारने के लिए तत्काल नीतिगत उपाय करने होंगे. आईएमएफ के मुताबिक इस सुस्ती की वजह वित्तीय क्षेत्र का संकट है. उसका ये भी कहना है कि मजबूत जनादेश वाली नयी सरकार के सामने ये सुधारों को आगे बढ़ाने का एक बेहतर अवसर है. चालू वित्त वर्ष की दूसरी तिमाही में आर्थिक विकास की दर घटकर चार दशमलव पांच फीसदी पर आ गई है. ये इसका छह साल का सबसे निचला स्तर है.

मोदी कैबिनेट का एक और अहम फैसला, नेशनल पॉपुलेशन रजिस्टर को मंजूरी दी

केंद्रीय कैबिनेट ने एनपीआर यानी राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर को मंजूरी दे दी है. इस कवायद का मकसद देश के सभी नागरिकों का व्यापक पहचान डेटाबेस बनाना है. इस डेटा में जनसांख्यिकी के साथ बायोमीट्रिक जानकारी भी होगी. इसके लिए घर-घर जाकर आंकड़े जुटाए जाएंगे. बताया जा रहा है कि इस कवायद पर करीब 8500 करोड़ रु खर्च होंगे. एनपीआर का मकसद ये सुनिश्चित करना भी है कि सरकारी योजनाओं का फायदा जरूरतमंदों तक ही पहुंचे. हालांकि, कई राज्य इसका विरोध कर रहे हैं. इनमें पश्चिम बंगाल शामिल है. वहां मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने एनपीआर पर जारी काम को भी रोक दिया है. केरल की वाम मोर्चा सरकार ने भी एनपीआर से संबंधित कार्यवाही रोकने का आदेश दिया है. उसका कहना है कि ये संविधान के मुताबिक नहीं है और आशंका है कि इसके जरिए एनआरसी लागू किया जाएगा.

उधर, सरकार ने ऐसी आशंकाओं को खारिज किया है. केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने आज कहा कि एनपीआर का एनआरसी से कोई लेना-देना नहीं है. उनका ये भी कहना था कि ये कवायद 2010 में यूपीए सरकार ने शुरू की थी जिसे आगे बढ़ाया जा रहा है.

मेरठ जा रहे राहुल और प्रियंका गांधी को रास्ते में ही रोका गया, पुलिस के इनकार के बाद दोनों नेताओं को दिल्ली वापस लौटना पड़ा

उत्तर प्रदेश के मेरठ जा रहे राहुल गांधी और प्रियंका गांधी वाड्रा को आज पुलिस ने शहर के बाहर ही रोक लिया. वे नए नागरिकता कानून के खिलाफ हुई हिंसा में मारे गए लोगों के परिवारों से मिलने जा रहे थे. पुलिस के रोकने के बाद राहुल और प्रियंका गांधी को वापस दिल्ली लौटना पड़ा. इससे पहले कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी बीते रविवार को अचानक उत्तर प्रदेश के बिजनौर पहुंचीं थीं. वहां उन्होंने नए नागरिकता कानून को लेकर हुई हिंसा में मारे गए दो लोगों के परिजनों से मुलाकात की थी. इसके बाद सोमवार को राहुल गांधी ने दिल्ली में महात्मा गांधी के समाधि स्थल राजघाट पर धरना दिया था.

नए नागरिकता कानून को लेकर पश्चिम बंगाल के जाधवपुर विश्वविद्यालय में हंगामा जारी, प्रदर्शनकारियों ने लगातार दूसरे दिन राज्यपाल को परिसर में नहीं घुसने दिया

नागरिकता संशोधन कानून को लेकर पश्चिम बंगाल के जाधवपुर विश्वविद्यालय में हंगामा जारी है. प्रदर्शनकारियों ने आज लगातार दूसरे दिन राज्यपाल जगदीप धनखड़ को परिसर में नहीं घुसने दिया. राज्यपाल विश्वविद्यालय के दीक्षांत समारोह में हिस्सा लेने गए थे. लेकिन उन्हें काले झंडे दिखाए गए और भीड़ ने गेट पर ही उनकी कार रोक ली. तीखे विरोध के बाद राज्यपाल को वापस जाना पड़ा. जगदीप धनखड़ जाधवपुर विश्वविद्यालय के चांसलर भी हैं. इस घटना पर प्रतिक्रिया देते हुए उन्होंने खुद को असहाय बताया. इससे पहले सोमवार को भी विश्वविद्यालय में राज्यपाल के साथ धक्कामुक्की की गई थी.

मारुति के पूर्व एमडी जगदीश खट्टर के खिलाफ भ्रष्टाचार का मामला दर्ज, सीबीआई ने उनके घर पर छापा भी मारा

मारुति के पूर्व प्रबंध निदेशक जगदीश खट्टर के खिलाफ सीबीआई ने धोखाधड़ी का मामला दर्ज किया है. जगदीश खट्टर और उनकी कंपनी कारनेशन पर 110 करोड़ रुपए के घोटाले का आरोप है. सीबीआई ने उनके घर पर छापा भी मारा है. जगदीश खट्टर 2007 में मारुति के एमडी के पद से रिटायर हुए थे. इसके एक साल बाद उन्होंने कारनेशन की शुरुआत की. कारोबार के सिलसिले में उन्होंने पंजाब नेशनल बैंक से 170 करोड़ रु का कर्ज लिया था जो बाद में एनपीए घोषित हो गया. इसी मामले में पीएनबी ने आपराधिक साजिश और धोखाधड़ी का केस दर्ज करवाया है. आरोप है कि जगदीश खट्टर और कारनेशन ने लोन के बदले जो एसेट्स गिरवी रखे थे, उन्हें धोखे से बेच दिया गया.