‘जब तक सीएए को वापस नहीं लिया जाता तब तक राज्य में शांतिपूर्ण प्रदर्शन जारी रहेंगे.’  

— ममता बनर्जी, पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने यह बात कोलकाता में नए नागरिकता कानून (सीएए) के खिलाफ एक विरोध मार्च का नेतृत्व करते हुए कही. उन्होंने आरोप लगाया कि सीएए के खिलाफ बोल रहे छात्रों को भाजपा डरा रही है. नए नागरिकता कानून में पाकिस्तान, अफगानिस्तान और बांग्लादेश से भारत आने वाले गैरमुस्लिमों के लिए नागरिकता आसान बनाने का प्रावधान है.

‘आरएसएस के प्रधानमंत्री भारत माता से झूठ बोलते हैं.’  

— राहुल गांधी, कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने यह बात प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधते हुए कही है जिन्होंने कहा था कि डिटेंशन सेंटरों को लेकर अफवाहें फैलाई जा रही हैं. बीते रविवार को दिल्ली में एक रैली में प्रधानमंत्री ने यह भी कहा था कि ये अफवाहें विपक्ष फैला रहा है.


‘दिल्ली के टुकड़े-टुकड़े गैंग को सबक सिखाना चाहिए.’  

— अमित शाह, गृहमंत्री

अमित शाह ने यह बात दिल्ली में एक कार्यक्रम में विपक्षी पार्टियों पर निशाना साधते हुए कही. उन्होंने कहा कि कांग्रेस की अगुवाई में इन पार्टियों ने नागरिकता कानून के खिलाफ अफवाहें फैलाईं और राजधानी का माहौल खराब किया. इस कानून के खिलाफ बीते दिनों दिल्ली के जामिया और सीलमपुर इलाके में हिंसा हुई थी.


‘यह सामान्य आर्थिक संकट नहीं है, हालात बहुत गंभीर हैं.’   

— अरविंद सुब्रमण्यम, अर्थशास्त्री

मोदी सरकार के पूर्व आर्थिक सलाहकार अरविंद सुब्रमण्यम ने यह बात भारतीय अर्थव्यवस्था के बारे में कही. उनका कहना था कि अर्थव्यवस्था के मुख्य संकेतकों की वृद्धि दर या तो नकारात्मक है या फिर उनमें नाममात्र की वृद्धि है. अरविंद सुब्रमण्यम के मुताबिक निवेश से लेकर आयात-निर्यात तक हर जगह मंदी है जिसके चलते लोगों की आय भी घटी है और सरकार को मिलने वाला राजस्व भी.