भारतीय विदेश मंत्रालय ने पाकिस्तान के ननकाना साहिब में सिखों पर हुए हमले की कड़ी निंदा की है. मंत्रालय ने पाकिस्तान की इमरान खान सरकार से ननकाना साहिब गुरद्वारे में फंसे सिख श्रद्धालुओं को बचाने के लिए जल्द कार्रवाई की अपील की है.

पीटीआई के मुताबिक विदेश मंत्रालय ने एक बयान जारी कर कहा, ‘ननकाना साहिब में हुए उपद्रव की हम निंदा करते हैं. उन लोगों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाए, जो इस पवित्र गुरद्वारे में हो रही बेअदबी में शामिल हैं और जिन्होंने अल्पसंख्यक सिखों पर हमला किया है.’

भारतीय सूबे पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने भी पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान से अनुरोध किया है कि वह ननकाना साहिब गुरुद्वारे में फंसे श्रद्धालुओं को भीड़ से बचाने के लिए जल्द कुछ करें.

अमरिंदर सिंह ने एक ट्वीट में लिखा, ‘इमरान खान से अपील करता हूं कि वह तत्काल हस्तक्षेप करें जिससे गुरुद्वारा ननकाना साहिब में फंसे श्रद्धालुओं और इस पवित्र स्थल को उग्र भीड़ से बचाया जा सके.’

शुक्रवार शाम को खबर आई थी कि ननकाना साहिब गुरुद्वारे को सैकड़ों की संख्या में स्थानीय लोगों ने घेरा हुआ है. कुछ उपद्रवियों ने गुरुद्वारे पर पत्थबाजी भी की है. पाकिस्तान के ननकाना साहिब में सिख धर्म के संस्थापक गुरुनानक देव का जन्म हुआ था.