इराक में अमेरिकी सैनिकों की मौजूदगी वाले दो सैन्य ठिकानों पर ईरान के मिसाइल हमलों की खबर आज के सभी अखबारों के पहले पन्ने पर है. ईरान ने दावा किया कि इनमें कम से कम 80 अमेरिकी सैनिक मारे गए. हालांकि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि समय रहते इन हमलों की सूचना मिल गई थी और इसलिए कोई खास नुकसान नहीं हुआ. इसके अलावा ईरान की राजधानी तेहरान में एक विमान हादसे में 176 लोगों की मौत हो गई. आशंका जताई जा रही है कि यूक्रेन जा रहे इस विमान को ईरान की ही कोई मिसाइल जा लगी. इस घटना के बाद भारत सहित कई देशों ने अपने विमानन कंपनियों से ईरान और इराक के एयरस्पेस का इस्तेमाल न करने को कहा है.

कोयला उत्पादन क्षेत्र सबके लिए खुला

कोयला उत्पादन को बढ़ावा देने के लिए केंद्र सरकार ने बड़ा कदम उठाया है. दैनिक जागरण के मुताबिक उसने कोयला खदानों के आवंटन से जुड़ी सबसे बड़ी बाधा समाप्त कर दी है. अभी तक सिर्फ खुद के इस्तेमाल के लिए कोयला खदान के आवंटन का नियम था. लेकिन अब कोई भी कंपनी नीलामी के जरिये कोयला खदान प्राप्त कर उसकी बिक्री कर सकेगी. कैबिनेट की बुधवार को हुई बैठक में मिनरल्स, माइंस डेवलपमेंट रेगुलेशन कानून, 1957 में संशोधन संबंधी मिनरल्स लॉ (संशोधन) अध्यादेश-2020 के प्रस्ताव को स्वीकृति दे दी गई है. यह अध्यादेश कोयला खनन (विशेष प्रावधान), 2015 में संशोधन करेगा जिससे कोयला क्षेत्र में सरकारी कंपनी कोल इंडिया का वर्चस्व खत्म होगा. कोयला मंत्री प्रहलाद जोशी ने इसे नरेंद्र मोदी की अगुवाई में ऐतिहासिक आर्थिक सुधारवादी कदम बताया है. उन्होंने कहा कि कानूनी जटिलता के चलते कोयला खनन के मामले में दुनिया का चौथा सबसे बड़ा देश होने के बावजूद भारत बड़े पैमाने पर इसका आयात करता है.

टिक टॉक में बग, लाखों अकाउंट हैक हो सकते हैं

चीन का शॉर्ट वीडियो एप टिक टॉक बग की चपेट में है. दैनिक भास्कर के मुताबिक यह खुलासा इजरायल की साइबर सिक्योरिटी फर्म चेक पॉइंट ने किया है. साथ ही उसने आगाह किया है कि इस कमजोरी (बग) का फायदा उठाकर हैकर कभी भी टिकटॉक अकाउंट को हैक कर सकते हैं. टिक टॉक के एक अरब से ज्यादा ग्राहकों में सबसे ज्यादा यानी करीब 30 करोड़ भारत से हैं. 75 भाषाओं में उपलब्ध यह एप बीते तीन महीने के दौरान दुनिया में सबसे ज्यादा डाउनलोड किया जाने वाला एप बन चुका है. बताया जा रहा है कि लीक डेटा के आधार पर सरकार टिक टाॅक को तलब कर सकती है.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बजट पर सुझाव मांगे

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अगले आम बजट के लिए आम लोगों से विचार और सुझावों को आमंत्रित किया है. हिंदुस्तान के मुताबिक एक ट्वीट में उन्होंने कहा, ‘केंद्रीय बजट 130 करोड़ भारतीयों की आकांक्षाओं का प्रतिनिधित्व करता है और भारत को विकास की दिशा में आगे बढ़ता है. मैं आप सभी को ‘मेरी सरकार’ के इस वर्ष के बजट के लिए अपने विचारों और सुझावों को साझा करने के लिए आमंत्रित करता हूं. उन्होंने अपने ट्वीट के साथ ‘मेरी सरकार का केन्द्रीय बजट’ पोस्ट को भी साझा किया जिसमें किसानों, शिक्षक और अन्य लोगों से मूल्यवान विचार भेजने की अपील की गई है. 31 जनवरी से संसद का बजट सत्र शुरू हो सकता है और एक फरवरी को मोदी सरकार अपने दूसरे कार्यकाल का पहला आम बजट पेश कर सकती है.