ऑस्ट्रेलिया के जंगलों में लगी आग की विभीषिका जारी है. अब तक 24 लोगों की मौत हो चुकी है. इनमें तीन दमकलकर्मी हैं. पीटीआई के मुताबिक अधिकारियों ने आज बताया कि आग 60 लाख हेक्टेयर तक में फैली है. इसके चलते 100 करोड़ पशु-पक्षी भी खाक हो गए हैं. विशेषज्ञों के मुताबिक कुछ प्रजातियां तो लुप्तप्राय स्थिति में आ गई हैं.

आग से सैकड़ों घर भी राख हो चुके हैं. प्रशासन ने बृहस्पतिवार को देश के दक्षिणपूर्वी हिस्सों के लिए नई चेतावनी जारी की है और जगह खाली करने के आदेश दिये हैं. उसके मुताबिक गर्म हवाओं की वजह से आग फिर से भड़क सकती है.

रिकॉर्ड तोड़ तापमान और महीनों के सूखे ने चार महीने से समूचे ऑस्ट्रेलिया को धधका रखा है. बीच में हुई बारिश ने थोड़ी राहत दी थी, लेकिन आसमान साफ होते ही आग फिर से फैलने लगी. सबसे ज्यादा प्रभावित राज्य न्यू साउथ वेल्स है जहां आग लगभग 50 लाख हेक्टेयर इलाके को लील चुकी है. यहां 1300 घर तबाह हो गए हैं और हजारों लोगों को अपना घर-बार छोड़कर राहत शिविरों में जाना पड़ा है.

न्यू साउथ वेल्स में आपातकाल लागू कर दिया गया है. यहां पर पार्क, जंगल के बीच वाले रास्ते और कैंपिंग ग्राउंड बंद कर दिए गए हैं. छुट्टी बिताने आए लोगों को न्यू साउथ वेल्स तट के आसपास का 260 किमी का इलाका खाली करने के लिए कहा गया है.