जम्मू-कश्मीर के कुलगाम में चेकिंग के दौरान हिजबुल मुजाहिदीन के दो आतंकियों के साथ राज्य पुलिस के एक डीएसपी को भी पकड़ा गया है. पीटीआई के मुताबिक रविवार को जिस वक़्त इन आतंकियों को पकड़ा गया उस वक़्त उनके साथ गाड़ी में जम्मू-कश्मीर पुलिस के डीएसपी दविंदर सिंह भी मौजूद थे. सुरक्षाबलों ने आतंकियों के साथ ही डीएसपी को भी गिरफ़्तार कर लिया है और उनसे पूछताछ की जा रही है.

इसके बाद जम्मू-कश्मीर पुलिस ने इस मामले को लेकर एक प्रेस कॉन्फ्रेंस की. आईजी विजय कुमार ने पत्रकारों से कहा, ‘दविंदर सिंह ने आतंकवाद विरोधी अभियान में बहुत काम किया है. लेकिन जिन परिस्थितियों में उन्हें गिरफ्तार किया गया है, वह एक जघन्य अपराध है. वो आतंकियों को बिठाकर गाड़ी पर ले जा रहे थे. दविंदर सिंह के साथ आतंकवादियों जैसा ही सलूक किया जा रहा है और सभी सुरक्षा एजेंसियां संयुक्त रूप से उनसे पूछताछ कर रही है.’

जम्मू-कश्मीर में डीएसपी दविंदर सिंह को पिछले साल ही राष्ट्रपति पुलिस मेडल से नवाज़ा गया था. इस समय उनकी तैनाती श्रीनगर हवाई अड्डे पर थी.

आईजी विजय कुमार के मुताबिक जो दो आतंकी पकड़े गए हैं, उनका नाम सैयद नवीद मुश्ताक और आसिफ राथर है. नवीद हिजबुल का टॉप कमांडर है, जबकि राथर तीन साल पहले इस आतंकी संगठन से जुड़ा था. ख़बरों के मुताबिक रविवार को इनसे पूछताछ के बाद पुलिस ने श्रीनगर और दक्षिण कश्‍मीर में कई जगहों पर छापामारी की और भारी मात्रा में हथियार और गोलाबारूद बरामद किया.