सरकारी संस्थानों और कॉरपोरेट कार्यालयों की दिनचर्या में जल्दी ही व्यायाम के लिए पांच मिनट का योगावकाश या वाई-ब्रेक शामिल किया जा सकता है. केंद्र सरकार का आुयष मंत्रालय इस संबंध में विचार कर रहा है.

आयुष मंत्रालय ने प्रतिष्ठित योग विशेषज्ञों के सुझाव और मोरारजी देसाई राष्ट्रीय योग संस्थान के जरिए वाई ब्रेक नाम का एक कार्यक्रम तैयार किया है. सोमवार को आयुष मंत्रालय ने वाई-ब्रेक का परीक्षण भी शुरू किया है. इस योगावकाश में कुछ हल्के व्यायामों को शामिल किया जाता है जो पांच मिनट के दौरान आसानी से किये जा सकते हैं. मंत्रालय के एक अधिकारी ने बताया कि टाटा केमिकल्स, एक्सिस बैंक, अर्न्स्ट एंड यंग ग्लोबल कंसल्टिंग सर्विसेज जैसे कई कॉरपोरेट घरानों सहित लगभग 15 संस्थानों ने इस कवायद में शामिल होने के लिए स्वेच्छा से हामी भरी है.

एक अधिकारी ने कहा कि वाई-ब्रेक योग का कोई पाठ्यक्रम नहीं है बल्कि बहुत ही संक्षिप्त परिचयात्मक मॉड्यूल है. इसे विकसित करने की प्रक्रिया लगभग तीन महीने पहले शुरू हुई थी तथा 10 प्रसिद्ध योग चिकित्सकों और विशेषज्ञों के एक समूह ने इसे तैयार किया है.