पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ फिर सुर्खियों में हैं. उन्होंने कहा है कि महाभारत के पात्र अर्जुन के तीरों में परमाणु शक्ति थी. जगदीप धनखड़ का यह भी कहना था कि आधुनिक विमान 20वीं सदी में आया, लेकिन भारत में रामायण के दिनों में पुष्पक विमान था.

दिलचस्प बात यह है कि जगदीप धनखड़ ने ये बातें कोलकाता में एक विज्ञान मेले के उद्घाटन के मौके पर कहीं. उन्होंने आगे कहा कि संजय ने महाभारत का पूरे युद्ध का हाल धृतराष्ट्र को सुनाया, लेकिन टीवी देखकर नहीं क्योंकि उनके पास दिव्यदृष्टि जैसी कोई शक्ति थी. जगदीप धनखड़ का कहना था, ‘विमान का अविष्कार 1910 या 1911 में किया गया था. लेकिन अगर हम अपने धर्मग्रंथों पर नजर डालें तो रामायण में हमारे पास उड़न खटोला था.’ उन्होंने कहा कि दुनिया भारत की अनदेखी नहीं कर सकती.

वैसे इस तरह के बयान कोई नई बात नहीं हैं. कुछ समय पहले त्रिपुरा के मुख्यमंत्री बिप्लब देव ने दावा किया था कि भारत में महाभारत के समय से ही इंटरनेट था. इसी तरह भगवान गणेश के सिर को प्लास्टिक सर्जरी का चमत्कार बताया जाता रहा है. भाजपा नेता और उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री दिनेश शर्मा सीता को टेस्ट ट्यूब बेबी बता चुके हैं.