इराक की राजधानी बगदाद के उच्च सुरक्षा वाले क्षेत्र ‘ग्रीन जोन’ में स्थित अमेरिकी दूतावास के पास तीन रॉकेट आकर गिरे हैं. पीटीआई ने सुरक्षा सूत्रों के हवाले से यह जानकारी दी है. इस हमले में किसी के हताहत होने की फिलहाल कोई जानकारी नहीं है. रॉकेट गिरते ही इलाके में जोर-जोर से सायरन बजने लगे. अमेरिका ने हाल के महीनों में ग्रीन जोन में हुए ऐसे ही हमलों के लिए ईरान समर्थित समूहों को जिम्मेदार ठहराया था, लेकिन इन हमलों की जिम्मेदारी किसी ने नहीं ली.

ईरान और अमेरिका के बीच हाल के समय में तनाव चरम पर पहुंच गया है. पहले अमेरिका ने एक रॉकेट हमले में ईरान के शीर्ष कमांडर कासिम सुलेमानी को मार गिराया. इसके बाद ईरान ने इराक में स्थित और अमेरिका के सैनिकों की मौजूदगी वाले दो सैन्य अड्डों पर मिसाइल हमले किए. इसके कुछ दिन बाद ग्रीन जोन में अमेरिकी दूतावास के पास रॉकेट आकर गिरे. इस पूरे घटनाक्रम के दौरान दोनों देशों के मुखियाओं के बीच तीखी बयानबाजी भी देखने को मिली. अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने जनरल सुलेमानी को कई आतंकी हमलों का सूत्रधार बताया तो ईरान के राष्ट्रपति हसन रूहानी ने कहा कि उनका देश पूरे पश्चिम एशिया में अमेरिकी सैन्य मौजूदगी को खत्म करने के लिए कृतसंकल्प है.