डोनाल्ड ट्रंप के बयान पर भारत की प्रतिक्रिया, कश्मीर पर तीसरे पक्ष की जरूरत को फिर खारिज किया

कश्मीर मामले में मदद करने की अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की पेशकश भारत ने फिर खारिज कर दी है. आज विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा कि इस मामले में भारत का रुख पूरी तरह साफ है. उनका कहना था कि कश्मीर को लेकर किसी तीसरे पक्ष की जरूरत नहीं है. रवीश कुमार के मुताबिक किसी भी द्विपक्षीय मुद्दे पर आगे बढ़ने से पहले पाकिस्तान को आतंकवाद मुक्त माहौल पैदा करना होगा. हाल में दावोस में विश्व आर्थिक मंच की बैठक के दौरान डोनाल्ड ट्रंप ने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान से मुलाकात की थी. इसी दौरान उन्होंने कश्मीर मुद्दे पर भारत और पाकिस्तान की मदद करने की पेशकश की थी.

पार्टी सहयोगी पवन वर्मा को नीतीश कुमार का कड़ा जवाब, उन्हें जहां मर्जी जाने को कहा

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने पार्टी सहयोगी पवन वर्मा द्वारा एक पत्र सार्वजनिक किए जाने पर कड़ी प्रतिक्रिया दी है. उन्होंने कहा कि पवन वर्मा को जहां जाना है वहां जाएं. नीतीश कुमार का ये भी कहना था कि चिट्ठी सार्वजनिक करने के बजाय पवन वर्मा को पार्टी फोरम में आकर बात करनी चाहिए थी.

इससे पहले जेडीयू महासचिव पवन वर्मा ने नीतीश कुमार को लिखी एक चिट्ठी ट्विटर पर साझा की थी. इसमें उन्होंने दिल्ली में भाजपा के साथ जेडीयू के गठबंधन पर नाराजगी जताई थी. पवन वर्मा ने अपने पत्र में नीतीश कुमार को भाजपा के बारे में उनकी आशंकाओं की भी याद दिलाई थी. उनके मुताबिक नीतीश कुमार ने कई बार उनसे कहा था कि भाजपा देश को खतरनाक स्थिति में ले जा रही है. नए नागरिकता कानून के बाद से जेडीयू के भीतर तनाव बढ़ता दिख रहा है. संसद में पार्टी ने इससे जुड़े विधेयक का समर्थन किया था. लेकिन इसके बाद पार्टी उपाध्यक्ष प्रशांत किशोर ने इस पर निराशा जताई. इसे लेकर उन्होंने इस्तीफे की पेशकश तक कर डाली थी.

सीएए के विरोध को लेकर योगी आदित्यनाथ का बड़ा बयान, कहा - कायर लोगों ने महिलाओं और बच्चों को आगे कर दिया है

नागरिकता संशोधन कानून यानी सीएए के विरोध पर योगी आदित्यनाथ ने फिर बड़ा बयान दिया है. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री ने कहा कि इस विरोध प्रदर्शन से पुलिस अपने अंदाज में निपटेगी. योगी आदित्यनाथ ने यह बात आज आगरा में एक रैली के दौरान कही. उन्होंने कहा कि कायर लोगों ने महिलाओं और बच्चों को आगे कर दिया है और पुलिस ऐसे लोगों को नहीं छोड़ेगी. उनका ये भी कहना था कि सभी को विरोध करने का अधिकार है, लेकिन देश विरोधी गतिविधियां बर्दाश्त नहीं की जाएंगी. सीएए में पाकिस्तान, अफगानिस्तान और बांग्लादेश से भारत आने वाले गैरमुस्लिमों को आसानी से नागरिकता देने का प्रावधान है. लेकिन इस कानून के खिलाफ उत्तर प्रदेश सहित देश के कई राज्यों में प्रदर्शन हो रहे हैं.

शत्रु संपत्तियों के निपटारे की निगरानी के लिए अमित शाह की अगुवाई में मंत्रियों का समूह बना

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह की अध्यक्षता वाला एक मंत्री समूह 9,400 से अधिक शत्रु संपत्तियों के निपटारे की निगरानी करेगा. इससे करीब एक लाख करोड़ रुपये का राजस्व आने की संभावना है. इस संबंध में एक आदेश जारी किया गया है. शत्रु संपत्तियों का मतलब ऐसी संपत्तियों से है जो उन लोगों ने छोड़ी हैं जिन्होंने पाकिस्तान या चीन की नागरिकता ले ली है. भारत में पाकिस्तान के नागरिकों की नौ हजार से ज्यादा और चीन के नागरिकों की करीब सवा सौ संपत्तियां हैं. पाकिस्तान के नागरिकों की सबसे ज्यादा संपत्तियां उत्तर प्रदेश में हैं. वहीं, चीनी नागरिकों द्वारा छोड़ी गई सबसे ज्यादा संपत्तियां मेघालय में हैं.

चीन में कोरोना वायरस का कहर, अब तक 17 लोगों की मौत

चीन में सार्स जैसे एक नए वायरस की चपेट में आने से अब तक 17 लोगों की मौत हो गई है. इसे कोरोना वायरस कहा जा रहा है. देश में इसके करीब छह सौ मामले सामने आ चुके हैं. इसका सबसे ज्यादा असर चीन के मध्य हिस्से में पड़ने वाले शहर वुहान में दिख रहा है. यहां विमान सेवाओं सहित सभी सार्वजनिक परिवहन सेवाएं निलंबित कर दी गई हैं. इस वायरस को चीन से बाहर फैलने से रोकने की कोशिशें भी जारी हैं. बाकी देश भी इस मामले में एहतियात बरत रहे हैं. भारत इस मामले में पहले ही यात्रा परामर्श जारी कर चुका है. देश के सात हवाई अड्डों पर चीन से आने वाले लोगों की कड़ी जांच हो रही है.