भाजपा नेता और दिल्ली विधानसभा चुनाव में मॉडल टाउन से पार्टी उम्मीदवार कपिल मिश्रा के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर ली गयी है. दिल्ली पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने मीडिया को इसकी जानकारी देते हुए कहा कि चुनाव आयोग के आदेश के बाद इस मामले में कपिल मिश्रा के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है.

गुरूवार को कपिल मिश्रा ने एक ट्वीट किया था. इसमें उन्होंने दिल्ली में आठ फरवरी को होने वाले चुनाव को भारत बनाम पाकिस्तान मुकाबले जैसा बताया था. शुक्रवार को चुनाव आयोग ने इस पर संज्ञान लेते हुए इसे आचार संहिता का उल्लंघन माना और इसके लिए उन्हें एक नोटिस जारी किया. आयोग ने ट्विटर को भी आदेश दिया कि वह भाजपा नेता कपिल मिश्रा का यह विवादित ट्वीट हटाए. हालांकि, इस कार्रवाई के बाद भी कपिल मिश्रा का कहना है कि वे अपनी बात पर कायम हैं.

कपिल मिश्रा पहले आम आदमी पार्टी में थे. पिछले चुनाव में पार्टी के टिकट पर वे विधायक बने थे. बीते साल मई में लोकसभा चुनाव के दौरान उन्होंने भाजपा के लिए प्रचार किया. इसके बाद उन्हें दलबदल विरोधी कानून के तहत अयोग्य करार दे दिया गया. इसके कुछ समय बाद कपिल मिश्रा भाजपा में शामिल हो गए थे.