दिल्ली के जामिया इलाके में सीएए के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे लोगों पर एक शख्स के गोली चलाने की खबर आज सभी अखबारों के पहले पन्ने पर है. इस फायरिंग में एक छात्र घायल हो गया. गोली चलाने वाले शख्स को गिरफ्तार कर लिया गया है. वह उत्तर प्रदेश के जेवर का रहने वाला है. उधर, गृह मंत्री अमित शाह ने कहा है कि इस तरह की घटनाओं को बिल्कुल भी बर्दाश्त नहीं किया जाएगा. इसके अलावा भारत में कोरोना वायरस के पहले मामले की पुष्टि भी अखबारों की प्रमुख सुर्खियों में शामिल है. यह केरल का एक छात्र है जो चीन के वुहान में पढ़ाई कर रहा था. अब तक चीन में इस वायरस ने 213 लोगों की जान ले ली है.

संसद में सभी मुद्दों पर चर्चा के लिए तैयार: मोदी

आज से संसद का बजट सत्र शुरू हो रहा है. दैनिक जागरण के मुताबिक इससे पहले गुरुवार को एक सर्वदलीय बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नागरिकता संशोधन कानून (सीएए), राष्ट्रीय नागरिकता रजिस्टर (एनआरसी) और अर्थव्यवस्था समेत सभी मुद्दों पर खुली चर्चा की पेशकश की. वहीं, विपक्षी दलों ने साफ कर दिया कि वे महज आश्वासनों पर भरोसा नहीं करेंगे. उन्होंने सीएए और एनआरसी का विरोध कर रहे लोगों से बातचीत नहीं करने के सरकार के रुख को उसका घमंड बताते हुए संसद में इस पर घमासान के इरादों का भी संकेत दे दिया. सियासी विवाद के बड़े मुद्दों के बीच सरकार ने इस सत्र में 45 विधेयक लाने के एजेंडे का एलान किया है. उधर, बजट सत्र में सियासी संग्राम थामने और सदन सुचारू रूप से चलाने के लिए लोकसभा अध्यक्ष ओम बिड़ला ने भी देर शाम सभी दलों के साथ बैठक की.

रेलवे का किराया फिर बढ़ सकता है

आम बजट के बाद रेल किराये में एक बार फिर बढ़ोत्तरी हो सकती है. दैनिक हिंदुस्तान के मुताबिक इस बार रेलवे स्टेशन के विकास के नाम पर सुपरफास्ट सर्विस सरचार्ज के नाम पर किराया बढ़ाया जा सकता है. इसके साथ ही लोकल ट्रेनों का भी किराया बढ़ाया जा सकता है. आर्थिक संकट से जूझ रहे रेलवे को उबारने के लिए सरकार यह विकल्प चुन सकती है. इससे पूर्व एक जनवरी को लंबी दूरी की सभी श्रेणियों के मूल किराए में वृद्धि की गई थी.

दविंदर सिंह को हिज्बुल से पैसा मिल रहा था

हिज्बुल मुजाहिदीन के दो आतंकियों के साथ गिरफ्तार किए गए कश्मीर के पुलिस अधिकारी देविंदर सिंह को आतंकी संगठन से पैसा मिलता था. इंडियन एक्सप्रेस ने सूत्रों के हवाले से यह खबर दी है. एक अधिकारी के मुताबिक डीएसपी रैंक के इस अधिकारी को इसके एवज में आतंकियों के आने-जाने और उनके रहने की व्यवस्था करनी होती थी. दविंदर सिंह को बीती 11 जनवरी को गिरफ्तार किया गया था. उस समय वह नावेद और आसिफ नाम के दो आतंकियों को जम्मू ला रहा था. मामले की जांच एनआईए कर रही है.