वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण आज आम बजट पेश कर रही हैं. संसद में अपने बजट भाषण की शुरुआत में उन्होंने पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली को श्रद्धांजलि दी. इसके बाद उन्होंने आर्थिक मोर्चे अपनी सरकार की उपलब्धियां बताईं. उन्होंने कहा कि सरकार ने अर्थव्यवस्था को मजबूती देने वाले कई उपाय किए हैं. उन्होंने कहा कि जीएसटी इनमें से एक है जिसने व्यवस्था में 60 लाख नए करदाता जोड़े हैं. निर्मला सीतारमण का कहना था कि कर की इस नई व्यवस्था से इंस्पेक्टर राज खत्म हुआ है. उन्होंने दावा किया कि जीएसटी ने हर परिवार को हर महीने औसतन चार फीसदी की बचत हुई है.

निर्मला सीतारमण ने कहा कि सरकार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नारे सबका साथ, सबका विकास और सबका विश्वास की नीति पर आगे बढ़ रही है. उन्होंने कहा कि इसके बूते करीब 27 करोड़ लोगों को गरीबी की रेखा से ऊपर लाया गया है. वित्त मंत्री के मुताबिक सरकार ने सफलतापूर्वक महंगाई पर काबू पाया है. निर्मला सीतारमण के मुताबिक इस बजट को तीन केंद्रीय बिंदुओं के इर्द-गिर्द बुना गया है - भारत की महत्वाकांक्षाएं, आर्थिक विकास और सामाजिक देखभाल.