अपने बयानों को लेकर अक्सर सुर्खियों में रहने वाले भाजपा महासचिव का एक और बयान चर्चा में आ गया है. यह बयान उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को लेकर दिया. मौका था मध्य प्रदेश के इंदौर में नशे के खिलाफ आयोजित मैराथन का. इसके बाद हल्के-फुल्के मूड में कैलाश विजयवर्गीय ने कहा, नशे में तो रहना चाहिए, लेकिन नशा काम का हो, देशभक्ति का हो जैसे मोदी जी को है. आगे उनका कहना था कि इतना नशे में भी नहीं रहना चाहिए कि मोदी जी की तरह शादी ही न करें.

इससे कुछ दिन पहले ही कैलाश विजयवर्गीय का एक और बयान खूब चर्चा में रहा था. इसमें भाजपा महासचिव का कहना था कि उन्होंने कुछ दिन पहले पोहा खाने का स्टाइल देखकर बांग्लादेशी घुसपैठियों को पहचान लिया था. उन्होंने कहा कि ये घुसपैठिये मजदूर के रूप में उनके घर पर काम कर रहे थे. इसके बाद इस बयान को लेकर सोशल मीडिया पर खूब मीम्स भी बने थे.

कैलाश विजयवर्गीय के ताजा बयान पर मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने निशाना साधा है. उन्होंने कहा कि नरेंद्र मोदी ने शादी तो की, लेकिन वे पत्नी को छोड़कर चले गए.