‘पाकिस्तानी मंत्री को पता है कि अरविंद केजरीवाल ही शाहीन बाग में प्रदर्शनकारियों को बिरयानी खिला सकता है.’  

— योगी आदित्यनाथ, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री

योगी आदित्यनाथ ने यह टिप्पणी दिल्ली में एक चुनावी रैली में की. उन्होंने कहा कि इसीलिए पाकिस्तान के मंत्री अरविंद केजरीवाल के समर्थन में बयान देते हैं. कुछ दिन पहले भी एक रैली को संबोधित करते हुए योगी आदित्यनाथ ने कहा था कि शाहीन बाग में जो लोग नागरिकता कानून के खिलाफ प्रदर्शन पर बैठे हैं उन्हें केजरीवाल बिरयानी पहुंचवा रहे हैं.

‘अगर केजरीवाल आतंकवादी हैं तो सरकार उन्हें गिरफ्तार क्यों नहीं कर लेती?’  

— संजय सिंह, आप नेता

आप के राज्यसभा सांसद संजय सिंह की यह टिप्पणी भाजपा नेता प्रकाश जावड़ेकर के उस बयान के बाद आई जिसमें उन्होंने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को आतंकवादी कहा था. संजय सिंह ने कहा कि एक केंद्रीय मंत्री को इस तरह की भाषा के इस्तेमाल की इजाजत कैसे दी जा सकती है.


‘महाराष्ट्र में एनआरसी लागू नहीं होने दिया जाएगा क्योंकि इससे मुसलमानों को ही नहीं, हिंदुओं को भी अपनी नागरिकता साबित करने में दिक्कत होगी.’

— उद्धव ठाकरे, शिवसेना प्रमुख और महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री

उद्धव ठाकरे ने यह बात शिवसेना के मुखपत्र सामना को दिए एक इंटरव्यू में कही. हालांकि नागरिकता संशोधन कानून को लेकर उन्होंने केंद्र से सहमति के संकेत दिए. उद्धव ठाकरे का कहना था कि इस कानून के तहत किसी को भी देश से बाहर नहीं निकाला जा सकता. महाराष्ट्र सरकार में उद्धव ठाकरे की सहयोगी एनसीपी और कांग्रेस एनआरसी ही नहीं, बल्कि सीएए के भी खिलाफ हैं. सीएए में पाकिस्तान, अफगानिस्तान और बांग्लादेश से आने वाले गैरमुस्लिमों को आसानी से भारत की नागरिकता देने का प्रावधान है. लेकिन इसका तीखा विरोध हो रहा है.