दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी के प्रमुख अरविंद केजरीवाल ने आगामी विधानसभा चुनाव के लिए प्रचार के आखिरी दिन एक बार फिर विपक्षी भाजपा हमला बोला. पीटीआई के मुताबिक उन्होंने कहा कि भाजपा में कोई भी मुख्यमंत्री बनने के लायक नहीं है. अरविंद केजरीवाल के मुताबिक लोग जानना चाहते हैं कि भाजपा का मुख्यमंत्री पद का दावेदार कौन होगा. उन्होंने कहा, ‘क्या होगा अगर वे संबित पात्रा या अनुराग ठाकुर हुए?’

इससे पहले कल आप प्रमुख ने भाजपा को मुख्यमंत्री पद के लिए अपना उम्मीदवार घोषित करने और उसे अपने साथ बहस करने की चुनौती भी दी थी. अरविंद केजरीवाल ने यह भी कहा कि भाजपा ने विधानसभा चुनाव का ध्रुवीकरण करने की कोशिश भी की और नतीजे बताएंगे कि वह सफल हुई या नहीं. उनका कहना था, ‘आप के मतदाता वे हैं जो अच्छी शिक्षा, मेडिकल सुविधा, आधुनिक सड़कें, 24 घंटे बिजली चाहते हैं.’ शाहीन बाग में संशोधित नागरिकता कानून (सीएए) के खिलाफ जारी प्रदर्शन पर उन्होंने कहा, ‘गृह मंत्री अमित शाह को सड़क खोलने से क्या रोक रहा है? सड़क जाम रखने में अमित शाह का क्या हित छुपा है? वे दिल्ली के लोगों को परेशान और प्रदर्शन पर गंदी राजनीति क्यों करना चाहते हैं?’ भाजपा पर प्रहार जारी रखते हुए उन्होंने कहा कि भगवा पार्टी के नेता दिल्ली की अनधिकृत कॉलोनियों को ‘पूरी तरह भूल गए’ हैं और लोगों को गुमराह कर रहे हैं.